ALL Old New
स्वामी विवेकानंद ग्रामीण विकास सहयोग संस्था की मासिक बैठक सेक्टर 20 कार्यालय पर हुई संपन्न, लिए गए कई फैसले
February 29, 2020 • सुरेश चौरसिया

नोएडा। आज स्वामी विवेकानन्द ग्रामीण विकास सहयोग संस्था के पदाधिकारियों की मासिक बैठक संस्था के कार्यालय बी 289 सेक्टर 20 नोएडा में हुई। बैठक की अध्यक्षता संस्था के संस्थापक पुरूषोत्तम तिवारी ने की तथा संचालन राजकुमार अवाना ने किया।

बैठक में नोएडा प्राधिकरण व पुलिस प्रशासन के द्वारा पटरी के दुकानदारों व झुग्गी झोपड़ी वासियों को परेशान किये जाने पर विचार विमर्श किया गया। पटरी के दुकानदारों की समस्यायों को ध्यान में रखते हुए निर्णय लिया गया है कि पटरी के दुकानदारों का उक्त संस्था एक संगठन बनायेगी और पटरी के दुकानदारों को निःशुल्क सदस्य बनाया जायेगा और ईमानदारी के साथ लडाई लडी जायेगी और झुग्गी झोपड़ी वासियों की समस्यायों को भी गंभीरतापूर्वक हल कराने का प्रयास किया जायेगा।

बैठक में खोखा पटरी के सेक्टर 2 नोएडा के दुकानदार भी अपनी समस्या लेकर पहुंचे। उनकी समस्याओं का तत्काल निराकरण कराया गया। बैठक में सेक्टर 27 नोएडा में निवासरत महिला गुडडी देवी ने अपनी समस्या बताई कि हमारे दो बच्चे हैं। मैं उन्हें पढ़ने में असमर्थ हूं। संस्था के संस्थापक पुरूषोत्तम तिवारी ने उसके बच्चों की पढाई की जिम्मेदारी लेते हुए कहा कि बच्चों की कापी- किताबो की एवं स्कूल में बच्चों को लाने व ले जाने की जिम्मेदारी भी स्वामी विवेकानन्द ग्रामीण विकास सहयोग संस्था निभायेगी।

बैठक में यह भी निर्णय लिया गया है कि सरकार की योजनाओं का लाभ सभी लोगों को दिलवाने का भी हमारी संस्था जिम्मेदारी से प्रयास करेगी और सभी लोगों तक सरकारी का लाभ पहुंचाने में  सभी लोगों की मदद करेगी। बैठक में संस्था के संस्थापक ने यह भी घोषणा की है कि जिस भी व्यक्ति को कोई भी परेशानी हो वह हमें बताये, हम उसकी यथा सम्भव मदद करेंगे।

बैठक में स्वामी विवेकानन्द ग्रामीण विकास सहयोग संस्था के राष्ट्रीय अध्यक्ष पुरूषोत्तम तिवारी , प्रदेश अध्यक्ष रवि डेढा,उप सचिव जसराम अवाना, कोषाध्यक्ष बिजेंद्र कस्यप,उप कोषाध्यक्ष जसवीर लोहिया, नोएडा महानगर सचिव अमर सिंह परिहार, नोएडा महानगर अध्यक्ष ब्रह्मपाल सिंह,  के चतुर्वेदी, एडवोकेट अन्जु शर्मा,गजेन्द्र चौधरी, हीरा गुर्जर, परविन्द्र डेढा, अंकित डेढा, में अंकुश चौधरी राजकुमार अवाना आदि लोग उपस्थित रहे।