ALL Old New
शुक्रवार को जुमे की नमाज को देखते हुए यूपी पुलिस हाई अलर्ट मोड में
February 27, 2020 • सुरेश चौरसिया

 लखनऊ। दिल्ली में हिंसा के मद्देनजर एनसीआर के नोएडा, गाजियाबाद सहित प्रदेश के अन्य संवेदनशील स्थानों  पर शुक्रवार को जुमे की नमाज को देखते हुए पूरी सतर्कता बरतने के आदेश दिए गए हैं। पुलिस को साफ निर्देश है कि येन मौके पर पुलिस की कोई लापरवाही बर्दास्त नहीं होगी। सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम हो।

दिल्ली में हुई हिंसा की चिंगारी उत्तर प्रदेश में न फैले इसे लेकर यूपी के सभी संवेदनशील जिलों में अतिरिक्त सतर्कता बरती जा रही है। शुक्रवार को जुमे की नमाज के मद्देनजर पुलिस हाई अलर्ट मोड में है। 

मिली खबर के मुताबिक डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी ने एडीजी, आइजी व डीआइजी स्तर के कई अधिकारियों को अलग-अलग जिलों में शांति-व्यवस्था बनाए रखने के निर्देश दिए हैं। वरिष्ठ अधिकारी उन जिलों में कैंप कर रहे हैं। दिल्ली की सीमा से सटे जिलों के अलावा उन स्थानों पर भी अतिरिक्त सतर्कता बरतने को कहा गया है, जहां पूर्व में सीएए के विरोध में हिंसा की घटनाएं हो चुकी हैं। 

नोएडा, गाजियाबाद, बागपत व बुलंदशहर के अलावा लखनऊ, आगरा, मथुरा, अलीगढ़, रामपुर, मेरठ, मुजफ्फरनगर, आजमगढ़, मऊ, कानपुर नगर, संभल, बरेली समेत 22 से अधिक जिलों में खुफिया तंत्र की सक्रियता भी बढ़ा दी गई है। 20 व 21 दिसंबर 2019 को हुई हिंसा की घटनाओं के बाद चिह्नित किए गए संवेदनशील स्थानों पर भी अतिरिक्त पुलिस व पीएसी की तैनाती के निर्देश दिए गए हैं। डीजी अविनाश चंद्र को अलीगढ़, एडीजी प्रशांत कुमार को मेरठ, आइजी प्रवीण कुमार त्रिपाठी को गाजियाबाद, आइजी रमित शर्मा को संभल, आइजी ज्योति नारायण को बुलंदशहर व हापुड़, आइजी लक्ष्मी सिंह को मुजफ्फरनगर व डीआइजी जे.रविंद्र गौड को बिजनौर की मॉनीटरिंग तथा कड़े सुरक्षा प्रबंध सुनिश्चित कराने की जिम्मेदारी सौंपी गई है।