ALL Old New
शर्मनाक : कोरोना संक्रमित लोगों ने डॉक्टर, कर्मचारियों पर थूका
April 2, 2020 • सुरेश चौरसिया

नई दिल्ली। इससे बड़ी शर्मनाक बात और कुछ नहीं हो सकती की जो डॉक्टर कोरोना जंग में शामिल हैं और लोगों को जीवन बचा रहे हैं, उन्हीं पर कुछ फिरका परस्ती लोग  गंदी हरकत कर रहे हैं। यह ऐसे लोग हैं, जो कोरोना महामारी को भी मजाक समझते हैं और अपनी दकियानूसी सोच को जाहिर कर रहे हैं। आप समझ सकते हैं, डॉक्टर लोग जिनका उपचार कर रहे हैं, वही उन पर थूक तक फेंक रहे हैं, ताकि उन्हीं की तरह डॉक्टर भी कोरोना संक्रमण से ग्रसित हो जाएं।

दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज़ से निकाले गए करीब 2,300 से ज्यादा लोगों को क्वारैन्टाइन सेंटर और अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी  दीपक कुमार ने कहा कि तबलीगी जमात निज़ामुद्दीन के 167 लोग कल रात 9 बजकर 40 मिनट पर 5 बसों में तुगलकाबाद क्वारैन्टाइन सेंटर पहुंचे थे।  

उनमें  97 लोगों  को डीजल शेड ट्रेनिंग स्कूल हॉस्टल में और बाकी 70 को आरपीएफ बैरक क्वारैन्टाइन सेंटर में रखा गया है। उन्होंने कहा कि इन लोगों ने कर्मचारियों के साथ बुरा व्यवहार किया और डॉक्टरों समेत अन्य लोगों पर थूकना शुरू कर दिया. 

समाचार एजेंसी के मुताबिक, कुमार ने कहा, "ये लोग सुबह से अनियंत्रित थे और खाने पीने की अनुचित मांग कर रहे थे। उन्होंने क्वारैन्टाइन सेंट्रर के कर्मचारियों के साथ दुर्व्यवहार किया। इसके अलावा उन्होंने काम करने वाले सभी लोगों और डॉक्टरों पर थूकना शुरू कर दिया। वे हॉस्टल बिल्डिंग में भी घूम रहे थे। "