ALL Old New
शासन को सौंपी एसआईटी रिपोर्ट में किसी आईपीएस को नहीं मिली क्लीन चिट
February 27, 2020 • सुरेश चौरसिया

लखनऊ। आज नोएडा के पूर्व एसएसपी वैभव कृष्ण समेत पांच आईपीएस अफसरों के खिलाफ जांच कर रही एसआईटी ने अपनी रिपोर्ट उत्तर प्रदेश शासन को सौंप दी है. एसआईटी की रिपोर्ट में किसी भी अफसर को क्लीन चिट नहीं दिया गया है.

उल्लेखनीय है कि नोएडा के पूर्व आईपीएस वैभव कृष्ण की लिखित शिकायत पर एसआईटी पांच आईपीएस अफसरों के खिलाफ जांच कर रही थी. वह एसआईटी द्वारा गोपनीय पत्र लीक करने के मामले में वैभव कृष्ण के खिलाफ भी जांच की जा रही थी.

 एसआईटी ने दिए अपनी रिपोर्ट में दो अफसरों के खिलाफ सख्त कार्रवाई और तीन के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की सिफारिश भी की है. एसआईटी ने जिन दो आईपीएस अफसरों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की बात कही है, उन पर लगे आरोपों की पुष्टि डिजिटल और मोबाइल डिटेल्स से हो गई है.

आईटी अध्यक्ष डीजी विजिलेंस और कार्यवाहक डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी ने डाक से जांच रिपोर्ट शासन को भेज दी है. इस प्ररकर में वैभव कृष्ण की रिपोर्ट में सबसे गंभीर आरोप आईपीएस डॉ. अजयपाल शर्मा पर लगे थे।
गौरतलब है कि एसआईटी ने आईपीएस वैभव कृष्ण द्वारा पांचों आईपीएस अफसरों के खिलाफ उपलब्ध करवाए गए साक्ष्यों के आधार पर दोनों पक्षों के बयान दर्ज किए थे. इसके अलावा जिन कथित पत्रकारों से बातचीत को आधार बनाकर यह रिपोर्ट तैयार की गई थी, उनसे जुड़े मुकदमे के विवेचकों के भी बयान दर्ज किए गए थे. अब एसआईटी ने दो आईपीएस अफसरों के खिलाफ सख्त कार्रवाई और तीन अफसरों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की सिफारिश कर दी  है.