ALL Old New
फोनरवा ने प्राधिकरण के साथ बैठक में सेक्टरों की समस्याओं को रखा, सीईओ ने कहा शीघ्र होगा हल
March 17, 2020 • सुरेश चौरसिया

नोएडा। आज फोनरवा प्रतिनिधिमंडल और नोएडा प्राधिकरण के सीईओ रितु महेश्वरी के साथ एक बैठक में  नोएडा के सेक्टरों की समस्याओं से अवगत करवाया गया और एक पत्र भी दिया गया।

इस मौके पर फोनरवा के अध्यक्ष योगेंद्र शर्मा ने कहा कि नोएडा के कई सेक्टरों में गंदे पानी की सप्लाई हो रही है और न ही पर्याप्त पानी नहीं मिल रहा है। नोएडा के निवासियों को साफ और पर्याप्त पीने का पानी मिले इसकी मांग  फ़ोनरवा काफी लंबे समय से करता आ रहा है, परंतु अभी तक इसमें किसी भी तरह की कार्रवाई नहीं हुई है। नोएडा के निवासियों को शुद्ध एवं पर्याप्त पीने का पानी मिले और सभी  सप्लाई टेंकों में  फिल्टर प्लांट्स लगवाए जाए जिससे कि साफ पानी की सप्लाई  हो सके।

उन्होंने कहा कि नोएडा प्राधिकरण पानी के रेट बढ़ाने जा रही है जबकि  नोएडा प्राधिकरण ने अप्रैल 2020 में पानी के बिल में  बढ़ोतरी की थी। साथ ही नोएडा प्राधिकरण ने यह भी आश्वासन दिया था पानी की शुद्धता  और मात्रा को भी बढ़ाया जाएगा परंतु इस पर कोई काम नहीं हुआ। फोनरवा इसका विरोध जताया।

इस पर सीईओ रितु महेश्वरी ने कहा की नोएडा के निवासियों को साफ और पर्याप्त मात्रा में पानी मिले इसके बारे में नोएडा अथॉरिटी आवश्यक कार्रवाई कर रहा है। नोएडा के कुछ सेक्टरों के पानी के टैंको में फिल्टर के प्लांट भी लगाए जाएंगे इसके अलावा कई एजेंसियों से इस विषय पर चर्चा चल रही है। उन्होंने संबंधित अधिकारी को निर्देश दिए कि इस पर जल्दी से जल्दी कार्रवाई की जाए।  

उन्होंने कहा कि पानी के रेट बढ़ाने का निर्णय नोएडा बोर्ड ने लिया है, इसलिए वह नोएडा प्राधिकरण के अध्यक्ष से इस विषय पर चर्चा करेंगी। फोनरवा महासचिव केके जैन ने  नोएडा के अंदर कुत्ते के काटने की घटनाओं का मुद्दा उठाया। कहा गया कि कुतों की नसबंदी के लिए एक एजेंसी को करार किया हुआ है जो नोएडा शहर के हिसाब से पर्याप्त नहीं है। इसके अलावा उस एजेंसी का कार्य भी संतोषजनक नहीं है । हम  बार-बार नोएडा प्राधिकरण से निवेदन कर रहे हैं  की  एजेंसी की संख्या बढ़ाई  जाए  और इसके अलावा कुत्तों को रखने के लिए शेल्टर बनवाए जाए. सीईओ ने बताया एजेंसी को  यह काम सौंपा जा रहा है, जिससे कि पूरे नोएडा शहर का कवर किया जा सके। उन्होंने यह भी आश्वासन दिया कि नोएडा मे नया शेल्टर  बनाने के लिए कार्रवाई चल रही है। उन्होंने संबंधित अधिकारी को निर्देश भी दिए कि इस कार्य में एजेंसी आरडब्ल्यूऐ के सम्पर्क में रहे जिससे आरडब्ल्यू और एजेंसी के बीच सामंजस्य से इस समस्या को प्रभावी ढंग से हल किया जा सके।

इस समय कई सेक्टरों में  कम्युनिटी सेंटर नहीं है जिसके कारण उन सेक्टरों के निवासियों को दूसरे सेक्टरों में जाकर अपने प्रोग्रम दूसरे सेक्टरों में करने पड़ते हैं।इसी तरह कई सेक्टरों में शॉपिंग कंपलेक्स नहीं है जिसके कारण वहां के निवासियों को रोजमर्रा की चीजों के लिए काफी लंबी दूरी तय करके दूसरे सेक्टरों में जाना पड़ता है।ऐसे सेक्टर्स में जल्द से जल्द शॉपिंग कंपलेक्स का निर्माण करवाया जाए।
 इसके अलावा कई सेक्टरों में चार दीवारी नही है । आरडब्लूए द्वारा अपने सेक्टर में गार्ड और सीसीटीवी कैमरे लगाने के बावजूद भी वहां की सुरक्षा पूरी तरह से नहीं हो पा रही है जिसके कारण इन सेक्टरों में चोरी की घटनाएं होती रहती है । हमारे आरडब्ल्यू से प्राप्त डिमांड के आधार पर हमने एक लिस्ट नोएडा  प्राधिकरण को दी थी उस पर अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

सीईओ ने बताया कि कुछ  सेक्टर में  कम्युनिटी सेंटर और शॉपिंग कंपलेक्स बनाने के लिए कार्रवाई चल रही है उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिन सेक्टर के अंदर बाउंड्री वॉल  कम्युनिटी सेंटर और शॉपिंग कंपलेक्स नहीं है इस पर आवश्यक कार्रवाई की जाए ।नोएडा को स्वच्छ रखने के लिए नोएडा प्राधिकरण द्वारा किए गए  प्रयास सराहनीय है फोनरवा का इन  का स्वागत करता है नोएडा अथॉरिटी द्वारा समय-समय पर अपेक्षित दायित्वों को आरडब्ल्यूए को सौंपा जा रहा है, जैसे कि ठोस अपशिष्ट प्रबंधन में सहायता का प्रावधान, खाद मशीनों की स्थापना,सफाईगिरी आदि महत्वपूर्ण कार्यो में सम्लित किया जाता है। परंतु उन्हें पर्याप्त अधिकार प्रदान नहीं किए गए हैं । अतः RWA को पर्याप्त रूप से सशक्त किया जाए ताकि RWA और उनके मूल संगठन FONRWA को निवासियों से संबंधित अपेक्षित निर्णय लेते समय विश्वास में लिया जाए। सीईओ ने ने आश्वासन दिया आरडब्लूए की भागीदारी नोएडा के किस कार्य में की जा सकती है उस पर विचार किया जाएगा। वार्ता के दौरान निवासियों द्वारा  आरडब्लूए को मेंटेनेंस का शुल्क ना देने का के विषय पर भी चर्चा हुई । उनसे अनुरोध किया गया की निष्पादित और पंजीकृत पट्टे अनुबंध के खंड 7( 3 )के आधार पर  ऐसे निवासियों  जो की मेंटेनेंस शुल्क नहीं देते है उनके विरुद्ध कार्रवाई की जाए। सीओ ने संबंधित अधिकारी को निर्देश दिए कि लीगल सेल के साथ मिलकर के इस पर कार्रवाई की जाए।इस इस मीटिंग में नोएडा प्राधिकरण के ऐसीईओ श्रीमती श्रुति, प्रवीण कुमार मिश्रा,ओएसडी श्री अविनाश त्रिपाठी, इंदुप्रकाश सिंह,   महाप्रबंधक राजीव त्यागी केके अग्रवाल, महाप्रबंधक बीएम पोखरियाल तथा अन्य अधिकारी उपस्थित थे और फोनरवा के अध्यक्ष योगेंद्र शर्मा, महासचिव के के जैन, संरक्षक श्री सुशील अग्रवाल, वरिष्ठ उपाध्यक्ष ओ.पी यादव एवं  वरिष्ठ सलाहकार ऋषि पाल अवाना उपस्थित थे।