ALL Old New
नोएडा में कोरोना पॉजिटिव आंकड़ा शतक ( 100) पहुंचा, प्रशासन के सामने बनी हुई है चुनौतियां
April 20, 2020 • सुरेश चौरसिया

नोएडा। नोएडा में आज कोरोना पॉजिटिव 3 महिला मरीजों के मिलने के साथ ही गौतमबुद्ध नगर जिले में कोरोना पॉजिटिव आंकड़ा एक शतक पर पहुंच गया है। जिलेे में लगातार कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़ने से जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा हुआ है। जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग द्वारा तमाम सुरक्षा इंतजामों के बीच जिले में  कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। इससे लोगों में दहशत भी बढ़ता जा रहा है। अब तक जिले में कुल 30 हॉटस्पॉट बनाए गए हैं। ये तीन कोरोना मामले बढ़ने से 3 और हॉट स्पॉट बनाये जाएंगे।

पहली मामला ग्रेटर नोएडा वेस्ट स्थित चैरी काउंटी सोसाइटी में आज एक 33 वर्षीय महिला कोरोना संक्रमित पाई गई है। जिसको स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा आइसोलेशन में भेज दिया गया है। जबकि नोएडा के सेक्टर 55 में एक 61 वर्षीय बुजुर्ग महिला को कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। सेक्टर 34 के बी ब्लॉक में रहने वाली 52 वर्षीय महिला को भी कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है।

आज गौतमबुद्ध नगर जिले में 3 और कोरोना पॉजिटिव मरीज की रिपोर्ट मिलने पर कुल संख्या बढ़कर 100 पर पहुंच गई है। जिला प्रशासन ने तीनों स्थानों को सील करा दिया है और कंटेनमेंट जोन घोषित करने की तैयारी है। तीनों स्थानों के 1 किलोमीटर दायरे तक सभी गतिविधियों पर पाबंदी लगाई जाएगी। यहां केवल आवश्यक सेवाओं की आपूर्ति करायी जा सकेगी।

गौतम बुद्ध नगर के जिला अधिकारी सुहास एलवाई ने बताया कि आज ग्रेटर नोएडा वेस्ट की चेरी काउंटी सोसाइटी, नोएडा के सेक्टर 55 सेक्टर 34 समेत 3 कोरोना पॉजिटिव महिला मरीज मिली है, जिसके बाद जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 100 हो गई है।

उन्होंने बताया कि जिले में आज 95 लोगों का कोरोना टेस्ट हुआ जिनमें से तीन महिलाएं पॉजिटिव पाई गई हैं। बाकी अन्य रिपोर्ट नेगेटिव हैं। उन्होंने बताया कि जिले में राहत की बात यह है कि यहां पर 100 में से 43 लोग ठीक होकर अपने घर वापस जा चुके हैं , वहीं अभी वर्तमान में 57 एक्टिव केस हैं। बता दें कि जिले में कोरोना संक्रमण के चलते 30 स्थान चिन्हित कर हॉटस्पॉट के तौर पर घोषित किए जा चुके हैं। आपको बता दें कि बीते रविवार को जिले के आला अधिकारियों की एक बैठक हुई थी। जिसमें कई अहम फैसले लिए गए। जिलाधिकारी सुहास ने बताया कि जिन क्षेत्रों में कोरोना का एक मरीज मिलेगा, वह क्षेत्र कंटेनमेंट जोन घोषित किया जाएगा। क्षेत्र के आसपास 1 किलोमीटर के दायरे तक आवश्यक सेवाओं को छोड़कर हर चीज पर पाबंदी रहेगी। वहीं जहां 2 या उससे अधिक क्लस्टर में कोरोना मरीज मिलेंगे, उस क्षेत्र में 3 किलोमीटर के दायरे में सभी गतिविधियों पर पाबंदी रहेगी। वहीं 2 किलोमीटर का बफर जोन भी होगा।