ALL Old New
नोएडा में जनता कर्फ्यू 23 मार्च सुबह 6 बजे तक लगी, देश के 75 जिले लॉक डाउन हुए
March 22, 2020 • सुरेश चौरसिया

नोएडा। कोरोना करो... ना ... करो ...ना  !  आज देश कोरोना मय बन गया है। सरकार के बड़े बड़े फैसले सामने आ रहे हैं। सरकार सबकुछ दांव पर झोंककर कोरोना वाइरस से युद्ध लड़ने में आगे आ गई है। भारत सरकार नेेे ठान लिया है कि चाहे जैसे हो, कोरोना वाइरस को भारत से खदेड़ना है। सरकार के बड़े-बड़ेेेेेेेेे फैसले इस ओर इशारा कर रहे हैं कि  कड़े फैसले के बिना कोरोना को हराया नहीं जा सकता है।

कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे के बीच बड़ी खबर सामने आई है। देशभर में जितने भी जिलों में कोविड-19 पॉजिटिव ( Covid-19 ) पाए गए हैं, वहां लॉकडाउन कर दिया गया है। ऐसे में देश में 75 जिले को फिलहाल 31 मार्च तक के लिए लॉक डाउन कर दिए गए हैं।

इन जिलों में नोएडा, मुंबई, पुणे, हैदराबाद, जयपुर, भीलवाड़ा, भोपाल, जबलपुर, गाजियाबाद, लखनऊ प्रमुख रूप से शामिल हैं। वहीं, जनता कर्फ्यू को लेकर भी कुछ राज्यों ने बड़ा फैसला लिया है। पंजाब सरकार ने 31मार्च तक लॉकडाउन का फैसला लिया है। चंडीगढ़ में 31 मार्च तक जनता कर्फ्यू जारी रहेगा। इसी तरह मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल भी 24 मार्च तक लॉकडाउन रहेगा। जबकि नोएडा में जनता कर्फ्यू को 23 मार्च सुबह 6 बजे तक के लिए बढ़ा दिया गया है।

कोरोनावायस को लेकर बढ़ रहे खतरे के बीच लगातार केंद्र और राज्य सरकारें कड़े कदम उठा रही हैं। इस बीच देश के 75 जिलों को लॉकडाउन करने का फैसला लिया गया है। ऐसा उन जिलों के लिए किया गया है जहां पर कोरोना के मरीज पॉजिटिव पाया गया है।

 लॉकडाउन होने वाले जिले ये रहे:-
मुंबई, पुणे, नोएडा, हैदराबाद, गाजियाबाद, भीलवाड़ा, जयपुर, भोपाल, लखनऊ, नवांशहर, कटक, अंबुल, चंडीगढ़, जबलपुर, पटना, दिल्ली प्रमुख रूप से शामिल हैं।

बता दें कि कोरोना के बढ़ते असर के बीच देशभर में सभी मेट्रो सेवाओं को भी 31 मार्च तक बंद करने का फैसला लिया गया है। पहले दिल्ली समेत कुछ शहरों में मेट्रो चालू रहने के बातें सामने आ रही थीं, लेकिन अब इसे पूरी तरह बंद करने का फैसला लिया गया है। लोगों के पलायन को देखते हुए सरकारों ने अंतरराज्यीय बस सेवाओं को भी 31 मार्च तक के लिए बंद कर दिया है। यानी रेल के बाद अब बसों को भी एक राज्य से दूसरे राज्य तक जाने पर रोक लगा दी है।