ALL Old New
नोएडा/ ग्रेटर नोएडा की सभी टॉप खबरें, जरूर पढ़ें
June 5, 2020 • सुरेश चौरसिया

नोएडा। गौतमबुद्ध नगर जिले में शुक्रवार को 27 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही जिले में कुल संक्रमित लोगों की संख्या 570 पहुंच गई है। जबकि 05 लोग कोरोना को हराकर अपने घर पहुंच गए। जिले में स्वस्थ होने वाले मरीजों का आंकड़ा 353 हो गया है। शुक्रवार को जिले में 03 लोगों की संक्रमण से मौत हुई है। इनमें दो गौतमबुद्ध नगर और एक गाजियाबाद के मुरादनगर का है। इसके साथ ही संक्रमण से जिले में अब तक 10 लोगों की मौत हो चुकी है। फिलहाल, 209 लोगों का इलाज जिले के विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है।

मरीजों के आंकड़े के मद्देनजर ग्रेटर नोएडा स्थित गवर्नमेंट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस में 200 अतिरिक्त बेड के आइसोलेशन वार्ड की व्यवस्था की गई है। इसके साथ ही जिले में आइसोलेशन वार्ड में कुल 700 बेड हो गया है।

जिला निगरानी अधिकारी डॉ. सुनील दोहरे ने बताया कि शुक्रवार को मिली रिपोर्ट में कुल 27 लोग संक्रमित पाए गए हैं। जिन लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है, उनमें नोएडा के सेक्टर-20 निवासी 55 वर्षीय व्यक्ति, सेक्टर-100 निवासी 59 साल के व्यक्ति, सेक्टर-107 निवासी 44 साल का पुरुष, नोएडा के सेक्टर-22 निवासी 45 वर्षीय व्यक्ति, ग्राम छलेरा निवासी 24 साल का युवक, सेक्टर-16बी निवासी 49 साल की महिला, सेक्टर-15 निवासी 52 साल की महिला, सेक्टर-19 निवासी 31 साल की महिला, सलारपुर निवासी 35 साल की महिला, सेक्टर-41 निवासी 51 साल का व्यक्ति, सेक्टर-30 निवासी 52 साल का व्यक्ति, सेक्टर-58 निवासी 24 साल का युवक, सेक्टर-74 निवासी 28 साल की महिला, सेक्टर-49 निवासी 27 साल का युवक, सेक्टर-5 निवासी 36 वर्षीय युवक, सेक्टर-22 निवासी 80 वर्षीय वयक्ति, सेक्टर-56 निवासी 43 वर्षीय व्यक्ति, सेक्टर-128 निवासी 73 साल का व्यक्ति, जेवर निवासी 76 साल की महिला, 35 और 24 साल का युवक, नोएडा के सेक्टर-20 निवासी 60 और 61 वर्षीय व्यक्ति शामिल हैं। इनके अलावा नोएडा के सेक्टर-45 निवासी 22 साल के युवक, 55 वर्षीय व्यक्ति, 27 और 30 साल की महिला में भी कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। डिस्ट्रिक्ट सर्विलांस ऑफिसर डॉ. सुनील दोहरे ने बताया कि शुक्रवार को जिले में 03 लोगों की संक्रमण से मौत हुई है। इनमें नोएडा के सलारपुर गांव निवासी 73 साल के व्यक्ति और जेवर निवासी 70 साल के व्यक्ति शामिल हैं। उन्होंने बताया कि संक्रमण से गाजियाबाद के मुरादनगर निवासी 25 साल की महिला की भी मौत हुई है। इस तरह जिले में संक्रमण से मृतकों की संख्या 10 हो गई है। उन्होंने बताया कि शुक्रवार को कोरोना को परास्त करने वाले 05 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया है। उनमें 32, 35 की महिला, 59 और 28 साल के युवक शामिल हैं। इनके अलावा एक 04 साल के बच्चे ने भी कोरोना को मात दी है। इन सभी का इलाज ग्रेटर नोएडा के शारदा हॉस्पिटल में चल रहा था।

डॉ. सुनील दोहरे ने बताया कि गौतमबुद्ध नगर जिले में अब तक कुल 618 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। उनमें 48 क्रॉस नोटिफाइड हैं। इस तरह गौतमबुद्ध नगर के कुल 570 लोग संक्रमित हैं। जिले में अब तक 353 लोगों को स्वस्थ होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। जिले में कोरोना संक्रमण से अब तक मरने वालों की संख्या 10 हो गई है। फिलहाल 209 पॉजिटिव मरीजों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज किया जा रहा है।

डॉ. सुनील दोहरे ने बताया कि जिले में 48 मरीज क्रॉस नोटिफाइड हैं। वे दिल्ली, गाजियाबाद, आंध्र प्रदेश, वेस्ट बंगाल, आगरा, हापुड़ और बुलंदशहर और हरियाणा के हैं। तीन मरीजों की एंट्री दो बार हुई है। इनमें 09 मरीजों की एंट्री पहले ही हो चुकी है। डॉ. सुनील दोहरे ने बताया कि गौतमबुद्ध नगर जिले में कुल 12 संवेदनशील स्थान हैं। इनमें ममूरा, निठारी, सर्फाबाद, हरौला, सेक्टर-8, 9, 10 शामिल हैं। उन्होंने बताया कि इन स्थानों पर कुल 678 लोगों की स्क्रीनिंग की गई। उनमें 09 लोगों को बुखार की शिकायत के बाद जिला अस्पताल भेजा गया। उन्होंने बताया कि ग्रेटर नोएडा स्थित गवर्नमेंट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस में 200 बेड के आइसोलेशन वार्ड की व्यवस्था की गई है। इसके साथ ही जिले में आइसोलेशन वार्ड में कुल 700 बेड हो गया है।

2.

 ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी के सीईओ नरेंद्र भूषण ने किया पौधारोपण 

 नोएडा। विश्व पर्यावरण दिवस पर शुक्रवार को ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी के सीईओ नरेन्द्र भूषण ने पौधारोपण कर पर्यावरण को स्वच्छ रखने का संदेश दिया। उन्होंने कहा कि पर्यावरण हमारे जीवन के लिए बेहद अहम है। जीवन के लिए पानी की तरह ही पेड़ भी जरूरी है। हम सभी का यह कर्तव्य है कि वह न सिर्फ पौधारोपण करे, बल्कि उसकी सेवा कर उसे बड़ा भी करे। सीईओ नरेंद्र भूषण ने 130 मीटर और 105 मीटर रोड की रोटरी तथा मेट्रो डिपो के पास हरित क्षेत्र में कचनार का पौधा लगाया। उन्होंने क्षेत्र के निवसियों से अपील की कि वे पौधारोपण करके पर्यावरण को सुरक्षित और संरक्षित रखने में अपनी भूमिका निभाएं। सीईओ ने उद्यान विभाग के अधिकारियों को निदेश दिया कि प्राधिकरण कार्यालय के समीप ग्रीन बेल्ट को विकसित कर फुटपाथ पर घास लगाएं। ग्रीन बेल्ट को विकसित करते समय इस बात का विशेष ध्यान रखा जाये कि लगाये जाने वाले पौधे एक ही प्रजाति के हों। नरेंद्र भूषण ने उद्यान विभाग के अधिकारियों को यह भी निदेश दिया कि आने वाले मानसून सत्र हेतु एक वृहद अभियान चलाकर 50 हजार पौधों के रोपने की कार्ययोजना तैयार करें, जिससे हरियाली के साथ ही पर्यावरण की भी सुरक्षा सुनिश्चित हो सके। इस दौरान एसीईओ दीप चन्द्र, समाकान्त श्रीवास्तव, पीके कौशिक

3.

नोएडा प्राधिकरण 04 कर्मचारी कोरोना संक्रमित, दफ्तर सील

- तीन दिन की छुट्टी पर भेजे गए कर्मचारी, वर्क फ्रॉम होम के निर्देश

नोएडा। प्रशासन की लाख कोशिशों के बावजूद कारोना वायरस के संक्रमण पर अंकुश नहीं लग पा रहा है। सेक्टरों और गांवों के बाद अब यह सरकारी दफ्तरों तक पहुंच गया है। नोएडा प्राधिकरण के कार्यालय में शुक्रवार को चार कर्मचारियों में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई है। बताया जाता है कि उनमें एक ओएसडी भी शामिल हैं। कर्मचारियों के संक्रमित होने की जानकारी होने के बाद प्राधिकरण के दफ्तर को सील कर सेनिटाइजेशन का काम किया जा रहा है। इससे पहले कलेक्ट्रेट में एसडीएम के ड्राइवर में भी संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है। अथॉरिटी की सीईओ ऋतु माहेश्वरी ने बताया कि नोएडा प्राधिकरण के 04 कर्मचारियों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। ये कर्मचारी ग्रुप हाउसिंग और कामर्शियल डिपार्टमेंट के हैं।

उन्होंने बताया कि संक्रमण की पुष्टि होने के बाद ऑफिस को सील कर सेनिटाइजेशन का कार्य किया जा रहा है। इसके साथ ही एहतियातन कर्मचारियों को 3 दिन की छुट्टी पर भेज दिया गया है। उन्हें वर्क फ्राम होम के लिए कहा गया है। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग पॉजिटिव पाए गए कर्मचारियों की कांटेक्ट ट्रेसिंग कर रहा है। उनके कांटेक्ट में आए सभी लोगों के सैंपल लिए जा रहे हैं।

4.

 नोएडा में महिलाओं और बच्चों को विशेष सुरक्षा की रणनीति तैयार : आलोक सिंह

गौतमबुद्ध नगर में डीसीपी और एसीपी महिला सुरक्षा की तैनाती सीएम योगी की परिकल्पना को नोएडा पुलिस ने पहनाया अमली-जामा

नोएडा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की एक महत्वपूर्ण परिकल्पना को धरातल पर उतारने का कार्य पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने किया है। उन्होंने महिलाओं और बच्चों के खिलाफ अपराधों का संज्ञान लेकर एक विशेष कार्ययोजना तैयार की है। इस योजना के तहत अब गौतमबुद्धनगर में महिला और बाल सुरक्षा की जिम्मेदारी के लिए महिला डीसीपी और एसीपी की तैनाती की जा रही है। पुलिस को इस योजना की बीते काफी समय से प्रतीक्षा थी। इस योजना की नींव मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ और गौतमबुद्धनगर में पुलिस कमिश्नर प्रणाली की घोषणा करने के दौरान रखी थी। उसे अब अमली जामा पहना दिया गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पुलिस कमिश्नर प्रणाली की घोषणा के समय कहा था कि वह इन अधिकारियों से अपेक्षा करते हैं कि वे महिलाओं और बच्चों के खिलाफ अपराधों को रोकने के लिए प्रभावशाली पहल करेंगे। महिलाओं व बच्चों के खिलाफ अपराधों की जांच में शीघ्रता के साथ गुणवत्ता को भी वरियता देंगे।

पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के इन निर्देशों के अनुपालन में गुरुवार को इस योजना को लागू कर दिया। इस योजना के तहत प्रत्येक पुलिस स्टेशन में एक महिला सुरक्षा डेस्क और एक महिला इकाई का संचालन किया जाएगा। महिला डेस्क द्वारा ही पुलिस स्टेशन में आने वाली सभी महिलाओं और बच्चों की समस्याओं का सर्वप्रथम संज्ञान लिया जाएगा, जिससे महिलाओं व बच्चों को अपनी समस्याओं का साझा करने में कोई परेशानी और हिचक ना हो और समस्याओं का विषय के आधार पर निस्तारण की उचित प्रक्रिया शुरू की जा सके। उन्होंने बताया कि इस योजना के तहत महिला इकाई में दो उप-निरीक्षक, पुरुष और महिला (पुरुष और महिला कांस्टेबल के साथ उनकी मदद के लिए) शामिल होंगे, जो विशेष रूप से महिलाओं के खिलाफ अपराधों के सभी मामलों की जांच करेंगे।

जांचकर्ताओं के इस समर्पित कैडर को सामयिक, समय पर और सबूत आधारित जांच के लिए विशेष तौर पर प्रशिक्षित किया जाएगा। इसके अलावा किसी भी जांच अधिकारी को प्रति वर्ष 40 से अधिक मामलों की जांच करने के लिए नहीं दिया जाएगा। गुणवत्ता के साथ ही समय पर जांच सुनिश्चित करने के लिए ही इस दृष्टिकोण को अपनाया गया है। पुलिस आयुक्त ने बताया कि एसीपी रैंक के अधिकारी को दहेज हत्या, एससी/एसटी समुदाय के सदस्यों के खिलाफ यौन अपराध की जांच करने की जिम्मेदारी होगी। जबकि एसीपी महिला सुरक्षा को अनैतिक गतिविधियों की रोकथाम अधिनियम के तहत अपराध, किसी भी अन्य जघन्य अपराधों द्वारा महिलाओं के खिलाफ सभी गंभीर अपराधों की जांच की जिम्मेदारी होगी। उन्होंने बताया कि डीसीपी और एसीपी महिला सुरक्षा को महिलाओं के खिलाफ अपराधों के पूरे स्पेक्ट्रम जैसे सभी यौन अपराधों और शादी से संबंधित सभी अपराधों की बारीकी से निगरानी करने की जिम्मेदारी होगी। आलोक सिंह ने बताया कि महिलाओं और बच्चों से संबंधित पूर्व-मौजूदा इकाइयों और सेवाओं जैसे कि महिला सहायता, एंटी-ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट, विशेष पुलिस किशोर इकाई, 1090 आदि के निगरानी की जिम्मेदारी भी डीसीपी महिला सुरक्षा की होगी। महिलाओं और बच्चों की सुरक्षा के लिए विभिन्न पहलों के बीच तालमेल बिठाने और पर्यवेक्षण का कार्य भी किया जाएगा।

सीपी के मुताबिक नए मॉडल के तहत वैवाहिक विवाद के मामलों में पेशेवर परामर्श सेवाएं प्रदान करने के लिए नॉलेज पार्क पुलिस स्टेशन में एक पारिवारिक विवाद निवारण सेंटर की स्थापना की जा रही है। इसके साथ ही महिलाओं और बाल सुरक्षा के लिए मोबाइल गश्ती वाहनों का बेड़ा भी उपलब्ध कराया जा रहा है। उन्होंने बताया कि इस योजना का उद्देश्य पुलिस और बाल कल्याण समिति, किशोर न्याय बोर्ड, चिकित्सा प्राधिकरण, चाइल्डलाइन और महिलाओं और बच्चों के कल्याण के लिए काम करने वाले विभिन्न गैर सरकारी संगठनों के बीच बेहतर तालमेल बनाना भी होगा।

5.

जीवन को स्वस्थ्य एवं सुखमय बनाने के लिए पौधे की जरूरत : डॉ. महेश

- अपने सेक्टर में सांसद ने लगाया बरगद का पौधा

नोएडा। विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर सांसद एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री डॉ. महेश शर्मा ने अपने सेक्टर-15ए के पार्क में बरगद का पौधा लगाकर उन्होंने पर्यावरण को सुरक्षित रखने का संदेश दिया। सांसद डॉ. महेश शर्मा ने कहा कि जिस तरह से देश में कोरोना महामारी से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क की जरूरत है, उसी प्रकार जीवन को स्वस्थ्य एवं सुखमय बनाने के लिए एक पौधे की भी जरूरत है।

उन्होंने कहा कि पर्यावरण दिवस पर हम सभी नागरिकों को यह प्रण करना चाहिए कि उत्तम स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए एक पौधा अवश्य लगाएं। इस मौके पर डॉ. महेश शर्मा ने क्षेत्रवासियों के उत्तम स्वास्थ्य की कामना की और सोशल डिस्टेंशिंग व मास्क लगाने का आह्वान किया।

 गौड़ सिटी में लॉकडाउन का पालन करते हुए घरों में बनाया पर्यावरण दिवस महिलाओं और बच्चों ने पैंटिंग के जरिये दिया पेड़-पौधों, जल और पशु-पक्षियों के संरक्षण का संदेश - पेंटिंग के जरिये केरल में गर्भवती हथिनी की हत्या पर दुख जताया

ग्रेटर नोएडा। गौड़ सिटी-एक में रहने वाली महिलाओं और बच्चों ने अपने ही अंदाज में विश्व पर्यावरण दिवस मनाया। लॉकडाउन के कारण ये सोसायटी से बाहर निकलने के बजाए घरों में ही रहकर पेंटिंग बनाई और लोगों को पर्यावरण को स्वच्छ रखने का संदेश दिया।

च्चों ने अपनी पेंटिंग के जरिये जल संरक्षण, पृथ्वी संरक्षण के साथ ही पशु-पक्षियों के जीवन को भी सुरक्षित रखने का संदेश दिया। गौड़ सिटी-एक के 6-एवेन्यू की निवासी अनिता प्रजापति ने ड्रॉइंग बनाकर पेड़ पौधों के साथ ही पशु-पक्षियों को भी बचाने का संदेश दिया। उन्होंने अपनी पेंटिंग में हाल ही में केरल में हुई गर्भवती हथिनी की निर्मम हत्या पर दुख उजागर किया। उन्होंने कहा कि वह हथिनी की हत्या से वह दुखी हैं, इसलिए पशुओं को बचाने का सन्देश दिया। एक अन्य निवासी दीप्ति ने अपनी पेंटिंग में धरती को बचाने और कोरोना से बचने का सन्देश दिया। इस काम में उनके पति रजत ने उनकी मदद की। एक बच्ची आस्था ने अपनी ड्रॉइंग में पानी को संरक्षित करने का सन्देश दिया। ममता ने भी अपनी पेंटिंग में पेड़ों को सुरक्षित रखने का संदेश दिया। जबकि सुरेन्द्र सिंह ने अपने घर पर ही पौधे लगाकर पर्यावरण दिवस बनाया। सभी ने पर्यावरण की सदैव सुरक्षा करने का संकल्प लिया।

6.

 पर्यावरण बचाओ देश बचाओ अभियान के तहत नेफोमा ने किया पौधारोपण

पौधों को गोद लेने और बच्चे की तरह परवरिश करने की अपील - इस वर्ष 5000 पौधे लगाएगा नेफोमा

ग्रेटर नोएडा। सामाजिक संस्था नेफोमा ने विश्व पर्यावरण दिवस पर पर्यावरण बचाओ देश बचाओ अभियान की शुरुआत की। इसके तहत ग्रेटर नोएडा वेस्ट के सेक्टर 16सी में पौधारोपण किया। इसमें गौर सिटी 14-एवेन्यू, पाल्म ओलम्पिया, आर सिटी, ग्रीन आर्क, वेदांतम आदि सोसायटियों के निवासियों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया और पर्यावरण बचाने का संकल्प लिया। इन लागों ने अपनी सोसायटियों के बाहर सर्विस रोड पर पौधे और वन है तो हम हैं, देश को बचाना है पौधे को लगाना है,पर्यावरण बचाओ देश बचाओ आदि स्लोगन लिखे। नेफोमा अध्यक्ष अन्नू खान ने सदस्यों और निवासियों को इस बात के लिए प्रेरित किया कि वे पेड़ों को गोद लें और बच्चों की तरह उसकी परवरिश करें।

उन्होंने कहा कि पर्यावरण बचेगा तभी हम खुली हवा में सांस ले सकेंगे। स्वस्थ जीवन के लिए ऑक्सीजन बहुत महत्वपूर्ण है और यह पेड़ों से ही मिलते हैं। नेफोमा की महासचिव रश्मि पाण्डेय ने कहा कि पर्यावरण बचाने के लिए हमारा अभियान शुरू हो गया है। हमने प्राधिकरण की मदद से नर्सरी से लेकर 100 पौधे लगाए। उनमें जामुन, इमली, कनेल, नीम आदि छांव के पौधे शामिल है। उन्होंने बताया कि इस साल 5 हजार पौधे लगाने का लक्ष्य तय किया गया है। उसे सभी सोसायटी निवासियों की मदद से पूरा करेंगे। कार्यक्रम के अंत में विभिन्न सोसायटी से आए लोगों ने नेफोमा का आभार जताया और पर्यावरण बचाने के लिए शुरू की गई मुहिम में सहयोग करने का भरोसा यिा। इस मौके पर महावीर ठुस्सू, हिमांशु, राजेंद्र, चंद्रा दत्त, प्रीति सिंह, मनिका शर्मा, नीलम, अख्तर अली, रवि तिवारी, कल्पना तिवारी, निभा सिंह, शहनाज खान, सरिता देवी, अदिति, मुकेश दुबे, सुधीर शर्मा, पुरुषोत्तम कुमार, रवि, उमेश सिंह, नितिन राणा, श्याम गुप्ता, राज चौधरी, नीरज शर्मा, अमित गिरी मौजूद थे।

7.

विश्व पर्यावरण दिवस पर पुलिस कमिश्नर कार्यालय में सीपी ने किया पौधारोपण

पुलिस आयुक्त आलोक सिंह के साथ दूसरे अफसरों ने भी लगाए पौधे पुलिस लाइन और थानों में भी मनाया गया पर्यावरण दिवस

नोएडा। विश्व पर्यावरण दिवस के पर शुक्रवार को पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने सेक्टर-108 स्थित कार्यालय परिसर में पौधारोपण किया। इस अवसर पर पुलिस उपायुक्त नितिन तिवारी और अपर पुलिस उपायुक्त आशुतोष द्विवेदी ने भी पौधारोपण किया। पुलिस आयुक्त आलोक ङ्क्षसह ने कहा कि कोरोना संकट के बीच जलवायु परिवर्तन एक बड़ा मुद्दा बनकर सामने आया है।

इस संकट काल में हर व्यक्ति को अपनी जिम्मेदारी समझनी होगी अन्यथा हमे इसकी बड़ी कीमत चुकानी पड़ेगी। उन्होंने आह्वान किया कि यह सही समय है कि हम सभी पृथ्वी को और उसके जरिये जीवन को बचाने में ईमानदारी से जुट जायें। उन्होंने सभी से अधिक से अधिक पौधारोपण करने और रोपित पौधों की अच्छे से देखभाल करने की अपील की। आलोक सिंह बताया कि विश्व पर्यावरण पर पुलिस लाइन एवं सभी थानों में भी पौधारोपण किया गया।

8.

मुठभेड़ में घायल 25 हजार का इनामी बदमश गिरफ्तार - अंधेरे का फायदा उठाकर एक बदमाश फरार

ग्रेटर नोएडा। दादरी थाने की पुलिस और एसओजी ने मुठभेड़ के बाद एक शातिर बदमाश को गिरफ्तार कर लिया। जबकि उसका एक साथी अंधेरे का फायदा उठाकर फरार हो गया। पुलिस की गोली से घायल बदमाश को इलाज के लिए अस्पताल में दाखिल कराय गया है। पकड़े गए बदमाश पर 25 हजार रुपये का इनाम रखा गया था। उसके पास से लूट का मोबाइल, अवैध शस्त्र और चोरी की मोटर साइकिल बरामद हुई है। डीसीपी जोन-थर्ड राजेश कुमार सिंह ने बताया कि शुक्रवार को तड़के दादरी थाने को सूचना मिली कि ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे पर ट्रक चालकों से लूटपाट में फरार चल रहा सुमित भाटी किसी वारदात को अंजाम देने की फिराक में है।

इस सूचना पर दादरी पुलिस और एसओजी की टीम ने कोट नहर चक्रसेनपुर के पास चेकिंग शुरू की। कुछ ही देर में बाइक पर दो संदिग्ध लोग आते दिखाई दिए। रुकने का इशारा करने पर बदमाशों ने पुलिस पर फायर कर दिया। पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की। इसमें सुमित उर्फ एसटी पुत्र बलराम भाटी निवासी लड़पुरा थाना कासना जिला गौतमबुद्धनगर जख्मी होकर गिर पड़ा। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है। डीसीपी राजेश कुमार सिंह ने बताया कि पकड़े अमित भाटी शातिर बदमाश है। उस पर विभिन्न थानों में आधा दर्जन से अधिक मामले दर्ज हैं।

उन्होंने बताया कि मौके से फरार गौरव निवासी ज्यू-3 की सरगर्मी से तलाश की जा रही है। उसे जल्दी ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। पकड़े गए बदमाश के पास से दादरी थाने में पंजीकृत मुकदमे से संबंधित मोबाइल फोन, एक तमंचा, 02 जिंदा, 02 खोखा कारतूस और एक मोटर साइकिल बरामद की हुई है।

9.

 पीएसी ने की एक व्यक्ति-एक वृक्ष अभियान की शुरुआत पर्यावरण को स्वच्छ रखने का कारगर उपाय है पौधारोपण : कल्पना सक्सेना पर्यावरण है सबकी जान, वृक्ष लगाकर करो इसका सम्मान

नोएडा। विश्व पर्यावरण दिवस पर शुक्रवार को 49वीं वाहिनी पीएसी ने एक व्यक्ति एक वृक्ष अभिान की शुरुआत की। इस दौरान पर्यावरण की सुरक्षा और संरक्षण के लिए कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें पौधे लगाकर पर्यावरण को बचाने व पेड़-पौधों को न काटने देने का संकल्प लिया गया। 49वीं वाहिनी पीएसी की सेनानायक कल्पना सक्सेना ने सभी अधिकारी और कर्मचारियों को पर्यावरण को बचाने का संकल्प दिलाया। उन्होंने कहा कि एक व्यक्ति एक वृक्ष कार्यक्रम का मकसद लोगों में पर्यावरण के प्रति जागरूकता फैलाना है। कल्पना सक्सेना ने कहा कि वैश्विक महामारी के कारण लगाया गया लॉकडाउन बेशक तकलीफदेह रहा, लेकिन इसने पर्यावरण को पुनर्जीवित कर दिया। हमारी भी कोशिश यही होनी चाहिए कि हम पर्यावरण को हर हाल में स्वच्छ रखें। इसके लिए पौधारोपण सबसे कारगर उपाय है। उन्होंने कहा कि सिर्फ पौधा रोपने से ही हमारी जिम्मेदारी खत्म नहीं हो जाती है। हमें उस पौधे को पाल-पोसकर बड़ा करना होगा।

इस अवसर पर उप सेनानायक राममोहन सिंह, सहायक सेनानायक स्नेहलता, अलका सिंह, सैन्य सहायक ममता कुरील, क्वार्टर मास्टर रामशरण सिंह, पीपल ट्री प्लांटेशन फोरम दिल्ली की डायरेक्टर राजलक्ष्मी श्रीवास्तव, सुशील कुमार शर्मा, रविंद्र कुमार मलिक, कंपनी कमांडर राजेंद्र सिंह, सूबेदार मेजर महेंद्र कुमार शर्मा, सूबेदार शिविर पाल और प्रदीप शर्मा आदि मौजूद रहे।