ALL Old New
मथुरा में पशुधन मंत्री ने किया कोरोना योद्धाओं का सम्मान
May 23, 2020 • सुरेश चौरसिया

मथुरा से कोमल पाराशर की रिपोर्ट

**   पशुधन मंत्री ने बरसाना में कोरोना योद्धाओं को किया सम्मानित

**      सफाई ,पुलिस, स्वास्थ्य और मीडियाकर्मियों के बिना कोरोना की जंग नहीं जीती जा सकती:- लक्ष्मीनारायण

मथुरा। बरसाना में प्रदेश के कैबिनेट दुग्ध, विकास एवं पशुधन मंत्री चौधरी लक्ष्मीनारायण ने कोरोना योद्धाओं का सम्मान माल्यार्पण कर पटुका पहना कर किया। मंत्री ने कहा कि पुलिस, स्वास्थ्य, सफाई व मीडिया कर्मियों के बिना कोरोना की जंग नहीं जीती जा सकती है। बरसाना में सेनेटाइज का छिड़काव स्वयं करवाया।

शनिवार को प्रदेश के कैबिनेट पशुधन मंत्री चौधरी लक्ष्मीनारायण के साथ के0आर0एस0 ग्रुप के चेयरमैन जय प्रकाश त्यागी व एन यू जे आई के राष्ट्रीय सचिव, उपजा के प्रदेश उपाध्यक्ष, ब्रज प्रेस क्लब के अध्यक्ष कमलकांत उपमन्यु व भाजपा के मण्डल अध्यक्ष रणवीर सिंह, नगर पंचायत चेयरमैन प्रतिनिधि भगवान सिंह के साथ गोवर्धन तहसील के क्षेत्राधिकारी जितेंद्र कुमार के साथ दर्जनों पुलिसकर्मियों स्वस्थ्य विभाग सीएससी प्रभारी गिरेन्द्र पाल के साथ स्वास्थ्य कर्मियों दर्जनों सफाई कर्मचारियों व पत्रकारों का माल्यार्पण कर पटुका पहनाकर तस्वीर भेंट कर कोरोना योद्धा के रूप में सम्मान किया।

इस दौरान के0आर0एस0 ग्रुप की तरफ से सफाई कर्मचारियों को एक माह का राशन दिया गया। इस दौरान कैबिनेट मंत्री चैधरी लक्ष्मी नारायण ने कहां कोरोना जैसी महामारी की जंग को जीतना अकेले सरकार के बस में नहीं है। इस लड़ाई में स्वास्थ्य कर्मी, पुलिसकर्मी, सफाई कर्मी के साथ मीडिया कर्मी नहीं होते तो कोरोना हिंदुस्तान में कोहराम मचा देता। सरकार मीडिया कर्मियों की खबरों पर तुरंत एक्शन ले रही है। इन यू जे आई के राष्ट्रीय सचिव कमल कांत उपमन्यु ने कैबिनेट मंत्री को धन्यबाद देते हुए कहा की पुलिस कर्मियों स्वास्थ्य कर्मियों व सफाई कर्मियों के साथ पत्रकारों का जो सम्मान किया है, सम्मान पाकर मीडिया बंधुओं का हौसला बढ़ता है।

सरकार तक सही जानकारी उपलब्ध कराने की मीडिया बन्धुओं की जिम्मेदारी बढ़ जाएगी। इसके बाद कस्बे सहित राधारानी की अष्ट सखी के गांवो को सेनेटाइजर करने के लिए दवा का छिड़काव मंत्री ने अपने हाथों से कर शुभारम्भ किया। इस मौके पर पूर्व एमलसी लेखराज चैधरी, सीओ गोवर्धन जितेन्द्र कुमार, अधिशासी अधिकारी बरसाना राजेश चौधरी, मनोज फौजदार आदि मौजूद थे।