ALL Old New
लॉकडाउन पर कानून का उल्लंघन कर बेच रहे मांस विक्रेता पर छापेमारी, 2 कुंतल मांस बरामद
April 6, 2020 • सुरेश चौरसिया

नोएडा। एक विशेष वर्ग द्वारा कोरोना महामारी से लड़ने में लगातार अवरोध उत्पन्न किया जा रहा है जिससे देश में संशय की स्थिति बनी हुई है। लॉक डाउन के मद्देनजर पूरे देश में कोरोना बाबत काफी सतर्कता बरती जा रही है और डिस्टेंसिंग का पालन किया जा रहा है। बावजूद कुछ ऐसे लोग हैं जो सरकार के बताए नियमों का पालन करने की जगह अपनी नियम चला रहे हैं।

कोरोना महामारी से निपटने के लिए केंद्र सरकार से लेकर प्रदेश सरकार तक और प्रदेश सरकार से लेकर जिला प्रशासन तक काफी एहतियात बरते जा रहे हैं,  बावजूद सिरफिरे लोगों द्वारा कुछ ऐसे कार्य किए जा रहे हैं जिसे कतई उचित नहीं ठहराया जा सकता।

गौतम बुद्ध नगर जिले के दादरी में नई आबादी में लॉक डाउन के बीच अवैध मीट की दुकानें चलाने का मामला सामने आया है। पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए मांस संचालित तीन दुकानों पर छापा मारकर करीब 2 कुंतल मीट बरामद किया है भनक लगते ही दुकानदार मौके से फरार हो गए, पर पुलिस ने तीनों दुकानदारों के विरुद्ध मामला दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी है। बताया गया है कि यह दुकानदार भैंसो का मांस बेच रहे थे और नियम कायदे कानून का कोई पालन नहीं कर रहे थे।

दादरी कोतवाली के एसआई अनुज कुमार के मुताबिक बीते कई दिनों से दादरी के नई आबादी मौहल्ले में अवैध रूप से मीट की दुकानें संचालित किए जाने की शिकायतें मिल रहीं थीं। जिसपर सोमवार दोपहर को टीम के साथ मौके पर छापेमारी की गई। इस क्षेत्र में अवैध रूप से संचालित मीट की तीन दुकानों से करीब 2 कुंतल मीट बरामद किया गया। तीनों मीट की दुकानों पर बिक्री और कटान से संबंधित कोई मानक पूरा नहीं किया जा रहा था। छापेमारी के दौरान तीनों दुकानों के संचालक मौका पाकर फरार हो गए।

हालांकि पुलिस ने इमरान पुत्र इदरीस, इकबाल पुत्र गुलफाम और आबिद पुत्र सलीम के खिलाफ संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। वहीं तीनों आरोपितों की तलाश की जा रही है।