ALL Old New
जरूरतमंदों को मिले काम और काम के बदले मिले वाजिब दाम : मौर्य
May 16, 2020 • सुरेश चौरसिया

रिपोर्ट : राजनारायण सिंह चौहान

**    सांसदों, विधायकों, जनप्रतिनिधियों व  प्रशासनिक अधिकारियों से की वार्ता 

- **      प्रवासी मजदूरों का रखा जाय पूरा ख्याल।
 
**    आर्थिक पैकेज समय से उपलब्ध कराने के लिए  युद्ध स्तर पर करें तैयारी

मैनपुरी। उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री व
 जनपद  के प्रभारी मंत्री  केशव प्रसाद मौर्य ने शुक्रवार को जनप्रतिनिधियों तथा जिला प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों से वेबिनार के जरिए वार्ता करते हुए कोरोना वायरस के दृष्टिगत की गई व्यवस्थाओं का जायजा लिया ।उन्होंने जनप्रतिनिधियो से कोविड-19के संकट में दिए जा रहे उनके योगदान के बाबत जानकारी हासिल की तथा कहा कि सभी लोग कोराना वायरस संक्रमण के नियंत्रण में सहयोग प्रदान करें। उन्होंने यह भी कहा जनप्रतिनिधि व जिला प्रशासन समन्वय बनाकर काम करें ।

 उन्होंने आबकारी एवं मद्य निषेध केबिनेट मंत्री  रामनरेश अग्निहोत्री, राज्यसभा सदस्य  हरनाथ सिंह यादव सहित विधायको व जनप्रतिनिधियों से वार्ता करते हुए कोरोना संक्रमण के दृष्टिगत अभी तक उठाए गए कदमों की जानकारी हासिल की तथा आवश्यक दिशा निर्देश दिए ।

उपमुख्यमंत्री ने निर्देश दिए  कि जिन श्रमिकों का रजिस्ट्रेशन नहीं हुआ है ,उनका भी रजिस्ट्रेशन करा लिया जाए।जो बाहर से आए है उनकी सूची तत्परता पूर्वक बना ली जाए ।राशन वितरण में लापरवाही व घटतौली किसी भी दशा में नहीं होनी चाहिए ।कहा कि मनरेगा में  जरूरतमंदों को काम हर हाल में दिया जाए  और काम के बदले भुगतान समय से मिले। उपमुख्यमंत्री ने मैनपुरी में किसान सम्मान निधि भी पूरी तरह से पात्रों को ही लाभ देने के निर्देश दिए और कहा कि किसी अपात्र को लाभ दिया गया तो संबंधित को गंभीर परिणाम भुगतने पड़ेंगे । मैनपुरी की स्वास्थ्य सेवाओं को भी बेहतर बनाने के उन्होंने निर्देश दिए।
 गेहूं क्रय केंद्रों पर पर्याप्त बारदाना उपलब्ध कराने हेतु कार्रवाई करने के निर्देश दिए।
 उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि सांसद व विधायक निधि से कोविड-19 के तहत जिले मे जो धनराशि दी गई है, उसका उपयोग सुनिश्चित किया जाए ।
 श्री मौर्य  ने जिलाधिकारी को निर्देश दिए कि जो समस्याएं शासन स्तर से निस्तारित होनी है, उनके बारे में शासन से पत्राचार करते हुए उसकी एक प्रति उन्हें भी प्रेषित करें ताकि वह इस संबंध में कार्यवाही सुनिश्चित करा सकें। निर्देश दिए कि मैनपुरी में जितने प्रवासी मजदूर आए हैं, उसकी सूचना भेजी जाए। पात्र लोगों   को सभी योजनाओं का लाभ दिलाया जाना सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने जनप्रतिनिधियों से अपेक्षा की कि जो पैदल प्रवासी श्रमिक आ रहे हैं, उनके लिये 'पैदल यात्री सेवा केंद्र' बनाकर उनके भोजन पानी आदि का प्रबंध सुनिश्चित कराएं ।
 
उपमुख्यमंत्री ने आज ही यमुनापार( प्रयागराज ) के विभिन्न जनप्रतिनिधियों से वार्ता करते हुए करोना वायरस संक्रमण के दृष्टिगत फीडबैक लिया। उन्होंने सांसद श्रीमती रीता बहुगुणा जोशी सहित अन्य लोगों से भी जिले की स्थितियों के बारे में जानकारी हासिल की ।सांसद रीता बहुगुणा जोशी ने कहा कि जो प्रवासी लोग आ रहे हैं, उनकी सही ढंग से ट्रैकिंग होनी चाहिए। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि जो लोग  प्रयागराज से होकर अन्य जिलों को जा रहे हैं ,उनका सही मार्गदर्शन करें, सांत्वना दें और यथासंभव उनकी मदद करें ।श्री केशव  प्रसाद  मौर्य ने कहा कि दैवीय आपदा से जिन किसानों को क्षतिपूर्ति नहीं मिल पाई है ,उन्हें क्षतिपूर्ति दिलाने में मदद करें ।कहा कि पेयजल की समस्या नहीं  होनी चाहिए व राशन सामग्री वितरण मे कोई लापरवाही नहीं होनी चाहिए । उन्होंने कहा कि गांवों में जो निगरानी समिति बनी है, उसके लोग एक्टिव रहें और बाहर से आने वाले लोगों को क्वॉरेंटाइन कराने में उनके ऊपर नैतिक दबाव भी बनाये। उन्होंने कहा जो आर्थिक पैकेज आ रहा है, उसका व्यापक लाभ पात्र लोगो को दिलाने में अपनी सेवा भावना का सभी लोग परिचय दें।