ALL Old New
हिंदुओं के देश में राम मंदिर बनना चाहिए : आलोक कुमार
February 28, 2020 • सुरेश चौरसिया

नोएडा। सेक्टर 9 स्थित शिव आयरन स्टोर नोएडा के 37 वीं वर्षगांठ समारोह में शिरकत करने आए राष्ट्रीय कार्य अध्यक्ष विश्व हिंदू परिषद आलोक कुमार ने कहा कि हिंदुओं के देश में राम मंदिर बनना चाहिए। 1984 में यूपी की तत्कालीन मुख्यमंत्री ने पूरी ताकत के साथ राम मंदिर का विरोध किया था और मुख्यमंत्री ने ऐसी व्यवस्था कर दी थी कि कार सेवकों का परिंदा पैर नहीं मार सकती थी, पर लोगों ने इस चुनौती को स्वीकार किया। सड़कों पर खाई खोद कर पानी भर दिया गया था, फिर भी लोग तमाम मुसीबतों का सामना कर अयोध्या पहुंचे थे और क्रोध में ढांचा गिर गया था और मंदिर बन गया। उन्होंने कहा कि मंदिर तो बन गया लेकिन वह मंदिर टेंट में बनकर रह गया था।  जो राज महलों में रहे, उन्हें टेंट में रखा गया, उसका निवारण तो होना ही था।

उन्होंने कहा कि राम जन्मभूमि का जब फैसला आया तो देश में कोई अप्रिय घटना नहीं हुई। मुस्लिमों ने कोई शिकायत नहीं किया। सारे देश में कौम की लोगों ने न्यायालय के फैसले को स्वीकार किया। यह सब 6-7 वर्षों में ऐसा हो गया जो 100 वर्षों में नहीं होता। धारा 370 खत्म हो गया। देश में एक निशान, दो विधान नहीं हो सकते। पूर्व में भले ही यह संदेहास्पद स्थिति में नजर आता था, लेकिन दृढ़ प्रतिज्ञ सरकार ने यह काम कर दिखाया है।

उन्होंने सीएए के विरोध को उचित नहीं कहा। उन्होंने कहा कि देश में दो कानून नहीं चल सकते। भारत के संवैधानिक के खिलाफ कानून भी बदल सकता है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में गुरुद्वारे को तोड़कर मस्जिद बनाए गए, पर पुलिस ने रोका नहीं। आजादी के समय पाकिस्तान में 20% हिंदू थे, जो अब साढ़े 18% कम हो गए। वह अपनी जान, माल, प्राण की सुरक्षा लेकर भारत आए, उनको शरण देना भारत का कर्तव्य बन गया है। उन्होंने कहा कि सीसीए को लेकर देश में झूठ फैलाई जा रही है। दंगे कराए जा रहे हैं, लेकिन सीएए का असली मकसद किसी की नागरिकता को छीनना नहीं है।
उन्होंने कहा कि विश्व हिंदू परिषद हर चुनौती को स्वीकार करता है और हिंदुओं की सुरक्षा के लिए तत्पर रहती है।
उन्होंने कहा कि 25 मार्च से लेकर 8 अप्रैल तक हर गांव में हिंदू शोभा यात्रा निकाली जाएगी। आनंद का माहौल होगा। उन्होंने कहा कि राम मंदिर के निर्माण में प्रत्येक हिंदू का पैसा लगना चाहिए।
उन्होंने कहा कि 100000 गांव में हिंदू परिषद एकल विद्यालय चलाता है। अब काम को आगे बढ़ाया जा रहा है। हम अपने अंदर व समाज के भीतर दो भाव नहीं रहने देंगे। जो सामाजिक, आर्थिक तौर पर उपेक्षित व अलग थे, उनको साथ लेकर आएंगे। इतिहास करवट ले रहा है, हिंदू समाज का भाग्य बदल रहा है। हिंदू शताब्दी का समय आ रहा है। सीसीए के साथ जो चुनौतियां है, वह बदल जाएगा। उन्होंनेे कहा कि समय का दान सबसे बड़ा दान है। हथियार का मुकाबला तो हथियार से ही संभव है।

 इस मौके पर कार्यक्रम के आयोजक व स्वागत कर्ता धर्मपाल गोयल, उमानंद कौशिक, राजकुमार डूंगर, पवन सिंघल, एसएन गुप्ता, सत्यवीर सिंह, ओपी गुप्ता, राजेंद्र  मेघराज गोयल, पवन गोयल, महेश गुप्ता, राजेंद्र गर्ग, निरमेश, छाया मैडम, अनुराधा, रूबी, ललित भारद्वाज, राधेश्याम गोयल, राम झलक पांडे, मुकेश, सौरभ, मुन्ना कुमार शर्मा राजीव गर्ग आदि शामिल रहे।