ALL Old New
घातक प्लास्टिक कोरोना में बन गया है वरदान
April 23, 2020 • सुरेश चौरसिया

नई दिल्ली। कोविड-19 में प्लास्टिक जिसे मनुष्य के स्वास्थ्य के लिए घातक बताया जाता रहा है, वह कोरोना महामारी में डॉक्टरों और मरीजों के लिए वरदान बना हुआ है। साथ ही कोरोना  के योद्धा इसका इस्तेमाल भरपूर कर रहे हैं।

जरा सोचिए कि अगर हमारे पास प्लास्टिक से बनी कोई वस्तु मौजूद नहीं होती तो क्या हम सभी कोविड-19 के घातक हमले से जिंदा बच पाते? आज तक कोरोना वायरस से जिंदगी बचाने वाली कोई भी दवा उपलब्ध नहीं हो पाई है। एक बार इस्तेमाल में लाए जाने वाले डिस्पोजेबल मास्क, दस्ताने, गॉगल्स, पूरे शरीर को ढकने वाले सूट और गाउन फिलहाल इंसानों की जिंदगी बचाने वाले रक्षक साबित हो रहे हैं। ये सारी चीजें प्लास्टिक से बनी हैं और ध्यान रहे कि प्लास्टिक को पर्यावरण के लिए खतरा बताया गया लेकिन यह वस्तु मुश्किल समय में अरबों लोगों की जान की रक्षक साबित हुई है।