ALL Old New
गौतमबुद्ध नगर से बिहार के चार जिलों के लिए भेजे गए 4678 प्रवासी मजदूर
May 16, 2020 • सुरेश चौरसिया

नोएडा।आज बिहार प्रदेश के 4 जिलों के 4678 प्रवासी मजदूरों को 4 ट्रेनों से दादरी एवं दनकौर से सुरक्षित रूप से  रवाना किया गया है। कोविड-19 के नोडल अधिकारी नरेंद्र भूषण, पुलिस आयुक्त आलोक सिंह तथा जिलाधिकारी सुहास एल वाई के नेतृत्व में सभी अधिकारियों के द्वारा कड़ी मेहनत कर सुरक्षित रूप से प्रवासी मजदूरों को अपने गंतव्य को किया गया रवाना।

 कोविड-19 वैश्विक महामारी को दृष्टिगत रखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर बिहार प्रदेश के 4678 प्रवासी श्रमिकों को दादरी एवं दनकौर रेलवे स्टेशन से कोविड-19 के नोडल अधिकारी नरेंद्र भूषण, पुलिस आयुक्त आलोक सिंह एवं जिलाधिकारी सुहास एल वाई के नेतृत्व में सुरक्षित रूप से सभी श्रमिकों को अपने गंतव्य के लिए रवाना किया गया है। सभी प्रवासी श्रमिक सुरक्षित रूप से अपने गंतव्य पर पहुंच सकें इसके लिए तीनों अधिकारियों के द्वारा युद्ध स्तर पर तैयारियां सुनिश्चित की जा रही थी, ताकि सभी मजदूर सुरक्षित रूप से अपने गंतव्य को रवाना हो सके।

पुलिस आयुक्त आलोक सिंह एवं जिलाधिकारी सुहास एल वाई के द्वारा स्वयं दादरी रेलवे स्टेशन एवं दनकौर में पहुंचकर स्थल निरीक्षण भी किया गया जहां पर उन्होंने प्रवासी मजदूरों को कोविड-19 को दृष्टिगत रखते हुए सुरक्षित रूप से ट्रेन में बैठाने की व्यवस्था उनके खान-पान की व्यवस्था सैनिटाइजेशन की व्यवस्था तथा अन्य व्यवस्थाओं के संबंध में मौके पर संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश प्रदान भी किए गए।

जनपद से आज 4678 प्रवासी मजदूर बिहार प्रदेश के लिए चार ट्रेनों के माध्यम से रवाना किए गए हैं जिसमें औरंगाबाद के 978 बक्सर के 656 सासाराम के 1524 तथा सिवान जनपद के 1520 प्रवासी श्रमिक सम्मिलित हैं। सभी को जनपद वार निर्धारित ट्रेनों में बैठाकर अपने गंतव्य के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए रवाना किया गया है। तीनों अधिकारियों के निर्देश पर दोनों अपर जिलाधिकारी, समस्त उप जिलाधिकारी गण, प्रशासन के अन्य अधिकारीगण पुलिस विभाग के अधिकारी गण स्वास्थ्य विभाग के अधिकारीगण शिक्षा विभाग के अधिकारियों तथा प्राधिकरण के अधिकारी गण विगत 2 दिनों से इस कार्यवाही को अंतिम रूप प्रदान करने के लिए बहुत ही दृढ़ता के साथ जुटे हुए थे। सभी प्रवासी मजदूरों को ट्रेनों में बैठाते हुए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सुनिश्चित करने के साथ-साथ खाने के पैकेट से एवं पानी की उपलब्धता भी सुनिश्चित कराई गई है ताकि सभी प्रवासी मजदूर सुरक्षित एवं आसानी के साथ अपने गंतव्य तक पहुंच सके। सभी प्रवासी श्रमिकों को ट्रेनों में सुरक्षा एवं सुरक्षित रूप से बैठाने के उद्देश्य से पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह के नेतृत्व में पुलिस विभाग के अधिकारियों एवं पुलिस बल के द्वारा अपनी ड्यूटी का बहुत ही दृढ़ता के साथ निर्वहन करते हुए सभी प्रवासी श्रमिकों को ट्रेनों में बैठाकर गंतव्य के लिए रवाना किया गया है।

स्वास्थ्य विभाग के सौजन्य से सभी प्रवासी श्रमिकों की थर्मल स्कैनिंग जांच करने के उपरांत सभी श्रमिकों को रवाना करने की कार्रवाई सुनिश्चित की गई है। जिलाधिकारी सुहास एल वाई ने जानकारी देते अवगत कराया कि यह प्रक्रिया आगे भी इसी प्रकार जारी रहेगी और सभी प्रवासी श्रमिकों को उत्तर प्रदेश सरकार के निर्देशों के अनुपालन में उनके घरों तक पहुंचाने की कार्रवाई जिला प्रशासन निरंतर रूप से सुनिश्चित करेगा।