ALL Old New
एनईए टीम ने विधायक पंकज सिंह से बेब पोर्टल जूम पर की बात, उद्यमियों की मांगों पर विधायक ने समाधान करवाने का दिया भरोसा
April 26, 2020 • सुरेश चौरसिया

नोएडा। आज नोएडा के विधायक एवम् भाजपा प्रदेश के महामंत्री पंकज सिंह से वेब पोर्टल ज़ूम पर एनई सदस्यों की बात हुई। इस मौके पर उन्होंने एनईए प्रतिनिधियों  की समस्याओं को जाना,  समझा और उनके समस्याओं का जल्दी ही समाधान करवाने की बात कही है। विधायक के इस आश्वासन पर एनईए प्रतिनिधियों ने  उनका आभार प्रकट किया।

बता दें कि लॉकडाउन के एक महीना पूरा होने पर  कल एनईए के अध्यक्ष विपिन कुमार मल्हन ने लॉकडाउन पर नोएडा क्षेत्र की बंद पड़ी कंपनियों की समस्याओं को उठाया था।

उन्होंने कहा कि हमारे पास उद्यमियों के लगातार फ़ोन आ रहे हैं और वर्तमान लॉक डाउन के बाद होने वाली समस्याओं को लेकर अपनी अपनी चिंता से अवगत कराया तथा कुछ तो कारोबार को समेटने पर भी विचार कर रहे हैं।

श्री मल्हन ने कहा कि मौजूदा परिस्थिति में एक ओर लॉक डाउन है और कारोबार बंद है। उस पर सरकार द्वारा अब तक कोई राहत न मिलने से उद्यमी निराश और हताश हैं । अभी तो किसी तरह उन्हें समझा रहे हैं, परंतु शीघ्र ही कोई राहत न मिलने पर क़र्ज़ में चल रहे उद्योगों पर भारी आर्थिक दबाव आ जाएगा जिससे उबरना छोटे उद्योगों के बस में नहीं होगा।

उन्होंने कहा कि हमने उद्यमियों को बताया कि हम ने एनईए के माध्यम से प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर सबकी समस्याओं से उन्हें अवगत कराया है और उम्मीद करते हैं कि शीघ्र ही कोई राहत मिले ।

तब हमारी मुख्य माँग रहीं –

1- लॉकडाउन अवधि में बैंक द्वारा लिया जाने वाला ब्याज पूर्णत: माफ़ होना चाहिए ।
2- लॉकडाउन अवधि में कर्मचारियों को दिये जाने वाले वेतन का भुगतान ESI द्वारा कराया जाए ।
3- लॉकडाउन अवधि में इलेक्ट्रिसिटी बिल में लगने वाले फ़िक्स चार्जेज़ को माफ़ किया जाना चाहिए ।
4- लॉकडाउन अवधि में प्राधिकरण द्वारा लिए जाने वाले लीज़ रेंट को माफ़ किया जाना चाहिए ।
5- लॉकडाउन अवधि समाप्त होने के बाद बैंक द्वारा एक साल तक ब्याज मुक्त ऋण उपलब्ध कराया जाए जिससे एमएसएमई सेक्टर पुनः मज़बूती के साथ आगे बढ़ सके ।

उन्होंने कहा कि  पहले से ही वैश्विक मंदी की मार से टूटा हुआ उद्यमी अब आर्थिक और मानसिक दबाव में हैं। ऐसे समय में हम सरकार से निवेदन करते हैं कि शीघ्र ही राहत प्रदान कर हमारी मदद की जाए।