ALL Old New
एमिटी में 20 वें अंतरराष्ट्रीय व्यापार क्षितिज सम्मेलन इनबुश एरा 2020 का हुआ शुभारंभ
February 18, 2020 • सुरेश चौरसिया

नोएडा। एमिटी इंटरनेशनल बिजनेस स्कूल द्वारा छात्रों को आधुनिक व्यापार तकनीकी के संर्दभ में जानकारी प्रदान करने हेतु एंव विशेषज्ञों, अकादमिकों एंव उद्यमियों को एक मंच पर लाने हेतु 20वें अंर्तराष्ट्रीय व्यापार क्षितिज सम्मेलन  ‘‘ इनबुश एरा 2020’’ का आयोजन आई ब्लाक सभागार, एमिटी विश्वविद्यालय में किया गया। इस 18 फरवरी से 20 फरवरी तक चलने वाले त्रिदिवसीय सम्मेलन का विषय ‘‘ परिवर्तन की चुनौतियां - प्रौद्योगिकी संचालित समाज में प्रबंधन व्यवसाय के लिए रणनितियां ’’है। इस सम्मेलन का शुभारंभ यूके के नार्थम्पटन विश्वविद्यालय के उपाध्यक्ष प्रो निक पेटफोर्ड, इंटरनेशनल फेडरेशन फाॅर इंन्र्फोमेशन प्रोसेसिंग के अध्यक्ष एंव लेरो द सांइस फाउडेशन आयरलैंड सेंटर फाॅर साफ्टवेयर के निदेशक प्रो माइक हिंचे, एमिटी विश्वविद्यालय ऑनलाइन के चेयरमैन श्री अजित चाौहान, एमिटी स्कूल ऑफलाइन आर्ट एंड एमिटी स्कूल ऑफ फैशन टेक्नोलाॅजी की चेयरपरसन श्रीमती दिव्या चाौहान एंव एमिटी ग्रुप वाइस चासंलर डा गुरिंदर सिंह ने पांरपरिक दीप जलाकर किया।

इस अवसर पर एशिया के विभिन्न देशों के विश्वविद्यालयों को आपसे में जोड़ने हेतु ‘‘एशियन यूनियन फाॅर इंटरनेशनल कोलाबोरेशन’’ की शुभारंभ किया गया जहंा पर एशिया के विभिन्न विश्वविद्यालयों के मध्य आपसी शोध एंव संबधों को बढ़ावा मिलेगा।

यूके के नार्थम्पटन विश्वविद्यालय के उपाध्यक्ष प्रो निक पेटफोर्ड ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि अंर्तराष्ट्रीय विश्वविद्यालयों द्वारा छात्रों को वैश्विक स्तर पर बढ़ावा देने के लिए आपसी सहयोग से उन्हे वैश्विक अनावरण प्रदान करना होगा। प्रो पेटफोर्ड ने कहा कि वर्तमान युग तकनीकी का युग है और युवा तकनीकी के माध्यम से विषय को बेहतरीन ढंग से समझ सकते है। उन्होनें कहा कि एमिटी द्वारा आयोजित इस प्रकार के अंर्तराष्ट्रीय सम्मेलन ना केवल आपसी विचार साझा करने के लिए मंच प्रदान करते है बल्कि आपसी सहयोग से छात्रों के विकास में सहायक भी होते हैं।

इंटरनेशनल फेडरेशन फाॅर इंन्र्फोमेशन प्रोसेसिंग के अध्यक्ष एंव लेरो द सांइस फाउडेशन आयरलैंड सेंटर फाॅर साफ्टवेयर के निदेशक प्रो माइक हिंचे, ने संबोधित करते हुए कहा कि वैश्विक प्रवृत्ति में आधुानिक साफ्टवेयर क्षमता की मांग बढ़ी है। कलाउड, एनालिटिकल, बिग डाटा, साइबर सोशियल सिस्टम, स्मार्ट साफ्टवेयर का उपयोग बढ़ रहा है। अगर साफ्टवेयर आपके कार्य में सहयोग नही दे रहा तो वो हार्डवेयर है। उन्होनें इवाॅलविंग क्रिटिकल सिस्टम, एडाॅपटिव सिक्योरिटी पर जानकारी प्रदान की।

एमिटी विश्वविद्यालय ऑनलाइन के चेयरमैन श्री अजित चाौहान ने अतिथियों एंव छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि इस सम्मेलन के अंर्तगत आने वाले तीन दिनों में हमें आपसे सीखने का अवसर प्राप्त होगा। आज यहां विश्व की बेहतरीन विश्वविद्यालय है जो आपस में विचारों को साझा करेगें। श्री चाौहान ने कहा कि वर्तमान समय में डिजिटल शिक्षा अत्यधिक महत्वपूर्ण है आज लोग अपने कार्य के साथ डिजिटल माध्यम से शिक्षा ग्रहण करके अपने कौशल का विकास कर रहे है। एमिटी विश्वविद्यालय प्रथम ऐसा विश्वविद्यालय है जिसके सबसे अधिक आॅनलाइन पाठयक्रम को यूजीसी द्वारा मान्यता मिली है। श्री चाौहान ने कहा कि नये अवसरों की तलाश में छात्र डिजिटल हो रहे है और डिजिटल शिक्षा भी ग्रहण कर रहे है।

एमिटी गु्रप वाइस चासंलर डा गुरिंदर सिंह ने अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि इस अंर्तराष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन पिछले दो दशकों से किया जा रहा है जहंा पर एक मंच पर देश विदेश के प्रख्यात अकादमिक, विशेषज्ञ, उद्यमी एंव शोधार्थि अपने विचारों को साझा करते है। इस सम्मेलन में आयोजित विभिन्न सत्रों में विशेषज्ञों द्वारा अपने विचार व्यक्त किये जायेगे और सैकड़ों की संख्या में पेपर प्रस्तुत किया जायेगा।
इस अवसर पर ‘‘ उच्च शिक्षा का भविष्य - अंर्तराष्ट्रीय विश्वविद्यालय के लिए चुनौतियां एंव अवसर’’ पर परिचर्चा सत्र का आयोजन किया गया जिसमें यूएसए के एनएविआईटीएस के अध्यक्ष श्री ब्रायन स्टीवसन, स्पेन के फाउंडेशन कासा डे ला इंडिया के निदेशक डा गुर्लीमो रोड्रीग्युज मार्टिन, फार ईस्र्टन फेडरल विश्वविद्यालय के जनरल अफेयर के उपाध्यक्ष प्रो अलेक्सी एस कोशेल, यूके्रन के इंटरनेशनल यूनिवर्सीटी ऑफ फाइनेंस के वाइस रेक्टर प्रो (श्रीमती) ओल्हा इलयास, यूटीपी मलेशिया के वाइस चांसलर प्रो मोहम्मद इब्राहिम अब्दुल मुतालिब, एमिटी विश्वविद्यालय आॅनलाइन के चेयरमैन श्री अजित चाौहान एंव एमिटी स्कूल आॅफ फाइन आर्ट एंड एमिटी स्कूल आॅफ फैशन टेक्नोलाॅजी की चेयरपरसन श्रीमती दिव्या चाौहान ने अपने विचार रखा।
सम्मेलन के प्रथम दिन स्पेन के वालाडोलिड विश्वविद्यालय, नार्थम्पटन विश्वविद्यालय, पोलेंड के डब्लू एस जी विश्वविद्यालय, अल फराबी कज़ाक नेशनल यूनिवर्सीटी, रशिया की फार ईस्र्टन फेडरल विश्वविद्यालय, यूएसए के डेलावेयर स्टेट विश्वविद्यालय एंव फ्रांस के ग्रीनोबल विश्वविद्यालय के साथ संयुक्त शोध, सम्मेलन, छात्रों एंव शिक्षकों के आवागमन, संयुक्त पीएचडी एंव प्रोजेक्ट पर समझौता पत्र पर हस्ताक्षर किया गया जिस पर विश्वविद्यालयों के प्रतिनिधियों एंव एमिटी गु्रप वाइस चांसलर डा गुरिंदर सिंह ने हस्ताक्षर किये। इस अवसर पर स्काॅपेक्स इंडेक्सेड जरनल, स्प्रींगर की किताबें जैसे डिसिजन एनालिटिकल एप्लीकेशन इन इंडस्ट्री, स्ट्रैटजिक सिस्टम एश्युरेंस एंड बिजनेस एनालिटिक्स, एडवांसेस इन इंटरडिसीप्लनरी रिर्सच विथ एमफासिस आॅन इंजिनियरिंग एंड बिजनेस मैनेजमेंट आदि का विमोचन अतिथियों द्वारा किया गया।

इस 20 वें अंर्तराष्ट्रीय व्यापार क्षितिज सम्मेलन  ‘‘ इनबुश एरा 2020’’ में पोलेंड के डब्लूएसजी विश्वविद्यालय के संस्थापक एंव अध्यक्ष श्री क्राजेस्ज़ोटोफ सिकोरा को एमिटी लाइफ टाइम एचिवमेंट अवार्ड, इंटरनेशनल फेडरेशन फाॅर इंन्र्फोमेशन प्रोसेसिंग के अध्यक्ष एंव लेरो द सांइस फाउडेशन आयरलैंड सेंटर फाॅर साफ्टवेयर के निदेशक प्रो माइक हिचें को प्रोफेसरशिप की मानद उपाधि से सम्मानित किया गया। भारत के साथ राजनायिक संबधो को बढ़ावा देने हेतु भारत में चेक रिपब्लिक के राजदूत महामहिम श्री मिलन होवोरका, अफगानिस्तान दूतावास के चार्ज द अफेयर महामहिम श्री ताहिर कादरी, मलेशिया दूतावास के हाई कमीश्नर महामहिम हिदायत अब्दुल हामिद, भारत में मैक्सीको दूतावास के राजदूत महामहिम श्री फेडरिको सलास लोटफे एंव इक्वाडोर दूतावास के राजदूत महामहिम श्री हेक्टर बी क्यूएवा को एमिटी गोल्ड मेडल से नवाजा गया।

इसके अतिरिक्त यूके्रेन की प्रो डारिया डोरोस्केवायच को एमिटी एक्सलेंस अवार्ड फाॅर बेस्ट वूमेन एकेडमिशियन इन इकोनाॅमिक से सम्मानित किया गया और एडोब इंडिया के मार्केटिंग प्रमुख श्री सुदंर माडकशिरा, वोक्स पोपुली रिर्सच के निदेशक श्री सत्या बोनाला, मारूति लेदर क्राफ्ट के संस्थापक श्री सचिन शिंदे को एमिटी कोरपोरेट एक्सलेंस अवार्ड से सम्मानित किया गया। दूरदर्शन न्यूज के महानिदेशक श्री मयंक कुमार अग्रवाल को एमिटी मीडिया एक्सलेंस अवार्ड से, कलाकार डा अश्विनी कुमार एंव अफगानिस्तान के राना विश्वविद्यालय के इंटरनेशनल रिलेशन निदेशक श्री प्रदीप शर्मा को एमिटी एक्सलेंस अवार्ड से सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के प्रथम दिन यूएसए के डेलावेयर स्टेट विश्वविद्यालय के सेंटर फाॅर द स्टडी आॅफ इनोवेशन मैनेजमेंट के निदेशक डा कारलोस एम रोड्रीग्युेज को एमिटी एक्सलेंस अवार्ड फाॅर बेस्ट फैकल्टी इन द एरिया आॅफ प्रोडक्ट डिजाइन एंड इनोवेशन प्रदान किया गया।

कार्यक्रम के द्वितिय दिन भी उच्च शिक्षा पर परिचर्चा सत्रों का आयोजन किया जायेगा इसके अतिरिक्त विभिन्न अकादमिको, उद्यमियों आदि को एमिटी एक्सलेंस अवार्ड एंव एमिटी कोरपोेरेट एक्सलेंस अवार्ड से सम्मानित किया जायेगा।