ALL Old New
दिल्ली के निजामुद्दीन के तब्दीली जमात में ठहरे 200 लोगों को हो रही कोरोना वाइरस की जांच
March 30, 2020 • सुरेश चौरसिया

नई दिल्ली। कोरोना के जंग से आज दुनिया लड़ रही है। बावजूद कुछ ऐसे लोग हैं जो कोरोना के खतरे से बेफिक्र हैं और उनकी नादानी कोरोना वायरस के बढ़ते संकट को खतरे में डाल रहा है। कई लोग ऐसे हैं जो सुधरने का नाम नहीं ले रहे हैं और अपनी मर्जी चला रहे हैं। प्रतिफल सरकार के घोषित लॉकडाउन का असर नहीं पड़ रहा है और कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। इसी दौरान दिल्ली से एक बड़ी खबर आई है जो भारत सरकार को भी हिला कर रख दिया है।

कोरोना के खिलाफ केन्द्र के साथ ही देशभर की सरकारें सतर्क है और लोगों को लगातार हिदायतें दी जा रही है कि वे लॉकडाउन के दौरान इसका उल्लंघन कर घरों से न निकलें। इस बीच, दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके से 200 लोगों को अस्पताल में कोरोना जांच के लिए ले जाया गया है।

कोरोना संक्रमण के बढ़ते खतरों के बीच दक्षिण पूर्वी दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित तब्लीगी जमात के मरकज से दस से अधिक देशों के नागरिकों समेत 200 लोगों को यहां के अलग अलग अस्पतालों में जांच के लिए ले जाया गया है। जिन लोगों को जांच के लिए ले जाया गया है, उनमें बांग्लादेश, श्रीलंका, अफगानिस्तान, मलेशिया, सऊदी अरब, इंग्लैंड और चीन के करीब 100 विदेशी नागरिक शामिल हैं।

रविवार को तमिलनाडु के एक 64 वषीर्य शख्स की मौत हो गई थी जो मरकज में रुका हुआ था। मृतक की हालांकि अभी जांच रिपोर्ट नहीं आई है। जैसे ये खबर सामने आई कि निजामुद्दीन इलाके में कुछ लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, उसके बाद दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग की टीम भी वहीं पर पहुंची। इस घटना के बाद पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।