ALL Old New
डीएम ने शत प्रतिशत राशन वितरण हेतु की आवश्यक बैठक
April 3, 2020 • सुरेश चौरसिया

**   लॉकडाउन के दौरान पारदर्शिता के साथ पात्रजनों को राशन वितरण कराया जाय

**   आवश्यक वस्तुओं, राशन की घटतोली, कालाबाजारी करने पर होगी कार्यवाही- डीएम

एटा से अनेश कुमार की रिपोर्ट



एटा। लगातार सोशल मीडिया एवं अन्य माध्यमों से मिल रही शिकायतों को दृष्टिगत जिलाधिकारी सुखलाल भारती ने शुक्रवार को आवश्यक वस्तुओं एवं राशन वितरण से जुड़े अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। डीएम ने बैठक के दौरान निर्देश दिए कि लॉकडाउन के दौरान जनपद की सभी 805 दुकानों पर पात्र व्यक्तियों को राशन वितरण होना चाहिए। विगत 01 अप्रैल 2020 से शुरू हुए राशन वितरण के दौरान पात्र गृहस्थी कार्ड धारकों को पूर्व की भांति राशन वितरण किया जाए, साथ ही मनरेगा के ऐसे जॉबकार्ड धारक एवं श्रम विभाग में पंजीकृत ऐसे श्रमिक जिनका नाम राशन डीलर की सूची में है,उनको नि:शुल्क राशन मिलना चाहिए, इसके अलावा अन्त्योदय कार्ड धारकों को निःशुल्क राशन दिया जाए।

डीएम ने साफ किया कि राशन की घटतोली या कालाबाजारी एवं आवश्यक वस्तुओं की निर्धारित मूल्य से अधिक मूल्य पर विक्री की शिकायत मिली तो संबंधित के खिलाफ कड़ी कार्यवाही कर जेल भेजा जाएगा। डीएम ने बैठक में मौजूद अधिकारियों को निर्देश दिए कि अपने अपने क्षेत्र में लगातार भ्रमणशील रहकर पात्र जनों को राशन वितरण सुनिश्चित कराएं। यदि कहीं समस्या है तो संबंधित के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करें। जनपद के पात्र व्यक्तियों तक हर हाल में राशन पहुंचना चाहिए, इसके साथ ही जो व्यक्ति राशन की दुकान तक आने में अक्षम हैं उनको घर घर जाकर राशन दिया जाए। अन्त्योदय परिवारों को वितरित होने वाले राशन 35 किग्रा० प्रति परिवार की दर से निःशुल्क वितरित हो, साथ ही पात्र गृहस्थी के राशनकार्ड धारक को 05 किग्रा० प्रति यूनिट की दर निःशुल्क खाघान्न वितरित किया जाए।

डीएम ने कहा कि राशन वितरण के दौरान राशन डीलर, निरीक्षण करने गए अधिकारियों द्वारा यह सुनिश्चित किया जाए कि उचित दर विक्रेता अपनी दुकान के सामने पेण्ट से कम से कम एक एक मीटर की दूरी पर गोला बना दें, साथ ही सम्बन्धित लाभार्थी राशन प्राप्त करने के समय उसी गोले में खड़े होकर अपनी बारी का इन्तजार करते हुए राशन प्राप्त करें। ई-पास मशीन पर अंगूठा निशान लगाने के पूर्व सम्बन्धित लाभार्थी अपने हाथ को कोटेदार द्वारा उपलब्ध कराए गए साबुन से हाथ धुलेंगे अथवा सेनेटाइजर से अपने सेनेटाइज करेंगे तथा ई-पास मशीन पर अंगूठा लगाने के बाद पुनः साबुन से हाथ धुलेंगे अथवा सेनेटाइजर से अपने सेनेटाइज करेंगे। राशन वितरण के दौरान सोशल डिस्टेन्सिंग का पूर्णतया अनुपालन कराया जाए। जिन लाभार्थियों को निःशुल्क राशन देने हेतु निर्देशित किया गया है, उनसे किसी भी प्रकार का मूल्य नहीं लिया जाए। बैठक में सीडीओ मदन वर्मा, एडीएम वित्त एवं राजस्व केशव कुमार, एडीएम प्रशासन विवेक कुमार मिश्रा, डीपीआरओ आलोक कुमार प्रियदर्शी,डीएसओ राजीव कुमार मिश्र, डीसी मनरेगा पीसी यादव,जेडी वीपी सिंह,एसपीओ आदि मौजूद रहे।