ALL Old New
चौरसिया समाज की लड़की को छेड़ने को लेकर एक दूसरे समुदाय के लोगों ने बोला हमला, दोनों ओर से घायल, एक की मौत
May 6, 2020 • सुरेश चौरसिया

बलिया। बलिया जिले के खेजूरी थाना क्षेत्र के मासूमपुर में सोमवार की रात चौरसिया समाज के एक परिवार और मुस्लिम समाज के एक परिवार के बीच लड़की को छेड़ने, अश्लील हरकत करने और मोबाइल से जबरन बातें करने को लेकर हिंसक झड़प हो गया और मारपीट भी की गई।

बताया गया है कि मुस्लिम समाज का एक युवक चौरसिया समाज की एक लड़की से बुरी निगाह रखता था तथा कहीं से फोन नम्बर प्राप्त कर अश्लील बातें भी करता था। लड़की ने इस बाबत अपने परिजनों को बताया। जब लड़की के परिजनों ने मुस्लिम युवक के परिजनों को इस बाबत बताया तो घर जाने के बाद वह हथियारों से लैस होकर चौरसिया परिवार के घर पर पहुंचे और बातों ही बातों में हमला बोल दिया। इस बीच दोनों ओर से मारपीट और झगड़ा शुरू हो गया जिसमें चौरसिया परिवार एवं मुस्लिम परिवार दोनों ओर से लोग घायल हुए हैं।

पुलिस के मुताबिक, इस घटना में दोनों पक्ष के आधा दर्जन लोग घायल हो गये। वारदात के बाद गांव में तनाव में पसर गया, जिसको देखते हुए पुलिस व पीएसी के जवानों की तैनाती की गयी है। बताया गया है कि खेजुरी थाना क्षेत्र के मासूमपुर में सोमवार की देर शाम युवती से छेड़खानी को लेकर विवाद हो गया। कहासुनी व नोकझोंक होने लगी तो कुछ लोगों ने समझा-बुझाकर मामला शांत करा दिया। गांव में माहौल गरमाते देख ग्रामीणों ने हस्तक्षेप कर मामले को शांत करा दिया। हालांकि कुछ देर बाद एक पक्ष के दर्जनों लोग लाठी-डंडा व भाला-तलवार से लैस होकर चौरसिया के दरवाजे पर पहुंचकर हमला बोल दिया। ग्रामीणों की मानें तो दोनों ओर से हुई मारपीट व चाकूबाजी में 20 वर्षीय फरदीम उर्फ हमजा, 45 वर्षीय वसीम खां, 26 वर्षीय तौफीक, 28 वर्षीय आसिफ, 18 वर्षर्ीय शोएब, 18 वर्षीय मुराद खां तथा 27 वर्षीय अखिलेश चौरसिया घायल हो गये। खबर मिलने के बाद पहुंची खेजुरी पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से सभी को इलाज के लिये जिला अस्पताल पहुंचाया। सदर अस्पताल के डॉक्टरों ने गंभीर रुप से घायल पांच लोगों को वाराणसी रेफर कर दिया। पुलिस का कहना है कि वाराणसी जाते समय फरदीम उर्फ हमजा की मौत हो गई। घटना की जानकारी मिलने के बाद गांव में तनाव पसर गया। अधिकारियों के निर्देश पर कई थानों की फोर्स मासूमपुर पहुंच गयी। मंगलवार की सुबह एसपी देवेन्द्र नाथ ने पहुंचकर मामले की जानकारी ली। पुलिस कप्तान का कहना है कि विवाद एक युवती से मोबाइल पर बात करने को लेकर हुआ था। बताया कि केस दर्ज कर छानबीन की जा रही है।

लड़की से मोबाइल पर बात करने को लेकर मासूमपुर गांव के दो पक्षों में लम्बे समय से विवाद चल रहा था। युवती के परिजनों ने युवक के घरवालों से कई बार शिकायत भी किया, लेकिन वह अपनी आदतों से बाज नहीं आ रहा था। ग्रामीणों का कहना है कि सोमवार की देर शाम घर के सामने से गुजर रहे युवक के मां-बाप से लड़की के भाई ने शिकायत कर रहे थे और इस दौरान दोनों पक्षों के बीच विवाद हो गया। घर पहुंचने के बाद युवक के माता-पिता ने अपने पुत्रों को यह बात बतायी तो वह लाठी-डंडा से लैस होकर लड़की के दरवाजे पर पहुंच गये। हालांकि मौके की नजाकत को भांपते हुए युवती के भाई मक्के के खेत में छिप गये। लड़की के परिवार के अन्य लोगों के साथ मारपीट के बीच खेत में छिपा युवक पहुंचकर धारदार हथियार से हमला बोल दिया। लोगों का कहना है कि चार दिन पहले भी इस मामले को लेकर दोनों पक्षों के बीच कहासुनी हुई थी। कहा जा रहा है कि इस घटना के बाद चौरसिया समाज के परिवार पर खासा दबाव बनाया जा रहा है। पुलिस जांच कर रही है।