ALL Old New
बेहतर प्रबंधन से नोएडा में कोरोना जंग जीतकर स्वस्थ्य हो रहे मरीज़
April 24, 2020 • सुरेश चौरसिया

नोएडा। कोविड-19 जंग में कोरोना मरीजों के मामले में नोएडा, गौतमबुद्ध नगर उत्तर प्रदेश में तीसरे स्थान पर है।  पर सबसे बड़ी बात यह है की जिले में 103 पॉजिटिव मरीजों के भर्ती होने और ठीक होने के मामले में यह प्रदेश में ही नहीं, बल्कि देश में भी एक तरह से कृतिमान स्थापित किया है। अब तक यहां एक भी कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मृत्यु नहीं हुई है, जिससे यहां प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की सक्रियता और मेहनत का प्रभाव स्पष्ट देखने को मिला है। यहां आधे से ज्यादा मरीज कोरोना जंग जीतकर अपने- अपने घरों में जा चुके हैं। यह स्वास्थ्य विभाग, जिला प्रशासन व आम जनता के लिए बेहद ही संतोष देने वाली बात है। डीएम सुहास एलवाई ने बताया कि जिले में अबतक 54 मरीज़ ठीक हो चुके हैं और 49 लोगों का उपचार चल रहा है।

गुरुवार को शारदा अस्पताल से चार मरीजों को डिस्चार्ज किया गया,  वहीं दोपहर तीन बजे तक दो नए पॉजिटिव मरीज भर्ती हुए, जिनमें एक पुरुष तथा एक महिला शामिल है। नोएडा के रहने वाले दोनों मरीजों को सरकारी एम्बुलेंस से शारदा हॉस्पिटल पहुंचाया गया। डिस्चार्ज होने वाले चारों को शारदा हॉस्पिटल में तेरह अप्रैल को भर्ती कराया गया था जहां इन्होंने कोरोना को हराकर विजेता के रूप में अपने आप को प्रस्तुत किया। इन लोगों ने शारदा हॉस्पिटल के डॉक्टरों तथा नर्सों के टीम को अपने विजयी होने का असली हीरो बताया।

डिस्चार्ज के समय डॉ अभिषेक त्रिपाठी के साथ साथ जिला स्वास्थ्य टीम के डॉ देवेन्द्र कुमार तथा डॉ वी के सिंह भी उपस्थित थे। सभी को फूलों का माला पहनाकर विदाई दिया गया। साथ ही उनको चौदह दिनों के लिए क्वारिंटिन्न में रहने का भी आदेश दिया गया।

डॉ. अजित कुमार के अनुसार, अभी भी शारदा हॉस्पिटल में सत्ताईस मरीज भर्ती हैं तथा आठ लोगों ने अबतक कोरोना को हराने में सफलता प्राप्त किया है। शारदा हॉस्पिटल में कई मरीजों का कोरोना के साथ- साथ अन्य रोगों का भी सफलता पूर्वक उपचार किया जा रहा है। उदाहरण के तौर पर कुछ को डायलिसिस का जरूरत पड़ रहा है, वहीं कैंसर से पीड़ित रोगी को कीमो इत्यादि का भी सुविधा उपलब्ध कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि शारदा हॉस्पिटल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ आशुतोष निरंजन की पूरी टीम मरीजों को बेहतर चिकित्सीय उपचार उपलब्ध कराने के लिए वचनबद्ध है।