ALL Old New
आरडब्ल्यूए सेक्टर 56 ने स्कूल व सामुदायिक भवन को क्वारंटाइन के प्रस्ताव पर जताया विरोध, डीएम को लिखा पत्र
May 7, 2020 • सुरेश चौरसिया

नोएडा। आरडब्ल्यूए सेक्टर 56 निवासियों ने सुहास एलवाई, जिलाधिकारी गौतमबुद्ध नगर को पत्र लिखकर उत्तराखंड पब्लिक स्कूल व सामुुुदायि भवन को क्वारंटाइन करने को लेकर विरोध जता रहे हैं। वे कल सामूहिक एकत्र हुए और पब्लिक डिस्टेंसिंग  का पालन करते हुए इस बाबत आवाज़ बुलंद की।

आरडब्ल्यूए ने पत्र के माध्यम से डीएम को लिखा कि, हम आपका ध्यान आपके उस निर्णय की ओर आकृष्ट करना चाहते हैं जिसके अंतर्गत हमारे सैक्टर में स्थित उत्तराखंड पब्लिक स्कूल एवं सामुदायिक भवन को  क्वारंटाइन केंद्र बनाना प्रस्तावित है ।
ये स्थान सैक्टर के मध्य में हैं एवं चारों ओर से घनी आबादी से घिरे हुए हैं ।

 हमारा सैक्टर- 56 अभी सुरक्षित क्षेत्र में है और इसमें लगभग 500 प्लॉट, लगभग 400 एल.आई.जी / जनता फ्लैट्स और भारत पेट्रोलियम के स्टाफ क्वार्टर का एक परिसर है, जिसमें काफी आबादी है। 
यह नोएडा का एक बहुत पुराना सैक्टर है और यहां पर निवास करने वाले लोगों में एक बहुत बड़ा वर्ग वरिष्ठ नागरिकों एवं अति वरिष्ठ नागरिकों का है , जिनकी कम रोगप्रतिरोधक क्षमता के कारण बीमारी से ग्रसित होने की संभावना अत्यधिक है। कोविड- 19 के परिपेक्ष्य में जारी दिशा निर्देशों के अनुसार क्वारंटाइन की सुविधा आवासीय क्षेत्र से बाहर अथवा दूर होनी चाहिए ।

पत्र में कहा कि, हमारे सैक्टर के निवासियों द्वारा उत्तराखंड पब्लिक स्कूल और सेक्टर 56 के सामुदायिक भवन  से क्वारंटाइन केंद्र की प्रतावित सुविधा को वापस लेने के लिए आवाज उठाई है। इसी संदर्भ में हम निम्नलिखित वैकल्पिक स्थानों का सुझाव दे रहे हैं:-

 1. डी.ए.वी. स्कूल, सेक्टर 56 . 2.  वनस्थली स्कूल, सेक्टर 56  3 .  नेहरू युवक केंद्  (नेहरू इंटरनेशन पब्लिक स्कूल)  सैक्टर 11 ( सैक्टर   56 गेट नंबर 1के सामने).
महोदय, उपरोक्त सभी स्थानों की भौगोलिक स्थिति ऐसी है, कि यहां पर आवागमन से, चाहे वह रोगी वाहन हो, स्वास्थ्यकर्मियों की आवाजाही हो या बाहर से किसी संदिग्ध संक्रमित ब्यक्ति को यहां पर लाना हो, किसी भी प्रकार से असुविधा नहीं होगी क्योंकि ये स्थान मुख्य सड़कों पर स्थित हैं ।
महोदय, इस विश्वव्यापी महामारी के समय पर हमारे सैक्टर निवासियों को अपनी जिम्मेदारी का बखूबी एहसास है एवं हम आपको भी आश्वस्थ करना चाहते है कि हमारी आर.डब्ल्यू.ए. एवं समस्त नागरिक शासन एवं प्रशासन का पूर्ण सहयोग करेंगे ।  
शासन द्वारा लिये गए वर्तमान निर्णय से निवासियों (ज्यादातर वरिष्ठ नागरिकों) में भारी असुरक्षा की भावना फैल गई है क्योंकि उत्तराखंड स्कूल और सामुदायिक भवन दोनों ही सैक्टर के अंदर हैं, जिससे यहां पर आनेवाले प्रवासी लोगों  के कारण उनके बीच कोरोना फैलाने का जोखिम है। उन्हें महसूस हो रहा है कि यहां इस सुविधा की स्थापना उन्हें गंभीर रूप से कमजोर कर देगी। इसलिए, कृपया अपने निर्णय पर पुनर्विचार करने की कृपा करें । हमारे अधिकतर निवासियों ने दिनांक 5 एवं 6 मई को इस संबंध में अपना विरोध दर्ज किया और आर.डब्ल्यू.ए.को अपनी चिंताओं से अवगत कराया ।

महोदय, सेक्टर के निवासियों की ओर से, हम आपसे अनुरोध करते हैं कि अपने प्रस्ताव पर पुनर्विचार करते हुए उपरोक्त 3 साइटों में से किसी एक पर क्वारंटाइन केंद्र स्थापित करने की कृपा करें।  इस मौके पर संजय मावी अध्यक्ष, आर.डब्ल्यू.ए, सेक्टर 56, एसएस मल्होत्रा, उपाध्यक्ष, महेंद्र सिंह महासचिव संजीव पुरी उपाध्यक्ष जीके बंसल कोषाध्यक्ष हरीश जुगरान अध्यक्ष, 
नयाबांस अवासीय समिति लि. अन्य कार्यकारी सदस्य और निवासी जेएम सेठ, दिलबाग सिंह जे सी वर्मा एसपी सिंह के कटारिया संजीव बांधा सुश्री अलका सूद सुश्री नीलम कुकरेती ए के जैन राजेश अग्रवाल आलमगीर रंजीव गुप्ता ए.के. डुडेजा विक्रम चतुर्वेदी शामिल रहे।