ALL Old New
6 मंत्रियों के साथ अरविंद केजरीवाल ने ली सपथ, प्रधानमंत्री के आशीर्वाद को जरूरत बताया
February 16, 2020 • सुरेश चौरसिया

नई दिल्ली। आज आम आदमी पार्ट के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने रामलीला मैदान में लगातार तीसरी बार दिल्ली के मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की है। उन्हें उपराज्यपाल अनिल बैजल ने उनके मंत्रिमंडल के छह मंत्रियों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलायी.

दिल्ली के नवनियुक्त मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली वालों को देश की राजनीति बदल देने का श्रेय देते हुये रविवार को कहा कि दिल्ली को विश्वस्तरीय सर्वश्रेष्ठ शहर बनाने के लिये वह केन्द्र सरकार के साथ मिलकर काम करेंगे। लिये उन्हें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आशीर्वाद की भी जरूरत होगी. 

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली वालों ने विकास को तरजीह देकर देश की राजनीति को बदलने का काम किया है. पिछले पांच सालों में हमारी यही कोशिश रही कि दिल्ली का कैसे बेहतर विकास होअगले पांच साल भी यही कोशिश रहेगी।'' केजरीवाल ने खुद को दलगत राजनीति से अलग बताते हुये कहा, मैं आप का भी मुख्यमंत्री हूं और भाजपा कांग्रेस सहित अन्य दलों के समर्थकों का भी मुख्यमंत्री हूं. 
 
उन्होंने कहा, पिछले पांच साल में मैंने किसी के साथ भेदभाव नहीं किया. किसी दूसरी पार्टी के समर्थक होने के आधार पर मैंने किसी के साथ भेदभाव नहीं किया. सभी के काम बिना किसी भेदभाव के किये. अब दो करोड़ दिल्ली वाले लोग मेरा परिवार हैं. मैं सभी के काम करूंगा. चाहे कोई किसी भी जाति धर्म का हो, अमीर हो या गरीब हो. 
 
 केजरीवाल ने चुनाव के दौरान विभिन्न दलों के नेताओं की कड़वी बातें भुलाने की अपील करते हुये कहा, मैं सभी के साथ मिल कर काम करना चाहता हूं. अब चुनाव खत्म हो गये हैं. चुनाव में राजनीति होती है और हुई भी. हमारे लिये चुनाव में जिसने जो कुछ भी कहा, उसके लिये हमने उन्हें माफ कर दिया है. 
 
केजरीवाल ने केंद्र सरकार के साथ मिलकर काम करने की पहल करते हुए कहा, मैं केन्द्र के साथ मिलकर दिल्ली को आगे ले जाना चाहता हूं. शपथ ग्रहण समारोह का मैंने प्रधानमंत्री को भी न्योत भेजा था, मगर वह किसी अन्य कार्यक्रम में व्यस्त होने के कारण नहीं आ सके. मैं दिल्ली को आगे बढ़ाने और इसे दुनिया का सबसे अच्छा शहर बनाने के लिये प्रधानमंत्री का भी आशीर्वाद चाहता हूं.