ALL Old New
4 लाख के पुराने नोटों के साथ ग्रेटर नोएडा का बाबू रविन्द्र हुआ गिरफ्तार
February 22, 2020 • सुरेश चौरसिया

नोएडा। नोटबंदी को बीते हुए तीन साल हो चुके हैं , बावजूद अभी तक लोगों के पास मौजूद है।  एक मामला ग्रेटर नोएडा का है जहां तकरीबन 4 चार लाख रुपये की पुरानी करेंसी बरामद होने की खबर है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, करीब 4 लाख रुपये के पुराने नोटों के साथ ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण का एक बाबू रविंद्र गिरफ्तार किया गया है। बता दें कि यादव सिंह प्रकरण में भी इस बाबू से सीबीआई ने पूछताछ की थी।

मिली जानकारी के मुताबिक, खबर मिल रही है कासना थाना (साईट 5) पुलिस ने चार लाख रुपये की पुरानी करेंसी के साथ एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। आरोपी ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण में बाबू के पद पर तैनात है। यादव सिंह के मामले में बाबू से सीबीआइ ने पूर्व में पूछताछ की थी। आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर पुलिस जांच में जुट गई है।

आरोपी के पास और पुराने नोट होने की सम्भावना हैं। पुलिस को सूत्रों से सूचना मिली थी कि प्राधिकरण में तैनात बाबू रविंद्र के पास लगभग चार लाख रुपये की पुरानी करेंसी मौजूद है, जिसके बाद पुलिस ने आरोपी के घर पर दबिश दी। जांच के दौरान पुलिस ने नोट बरामद कर लिए। नोट कहां से आए थे और बाबू ने यह नोट अभी तक अपने पास क्यों रखे थे? साथ ही इससे जुड़े अन्य सवालों का जवाब जानने के लिए पुलिस पूछताछ कर रही है।

आरोपित बाबू का संपर्क यादव सिंह से रहा है। यादव सिंह मामले की जांच सीबीआई कर रही है। सीबीआई ने यादव सिंह मामले में पूर्व में बाबू को हिरासत में लेकर पूछताछ की थी। लेकिन कोई ठोस मामला निकलकर नहीं आया था। संभावना जताई जा रही है बाबू ने पूर्व में घूस के रूप में यह रकम ली होगी। आरोपित के पास से चार लाख रुपए मिलने की जानकारी पुलिस के द्वारा सीबीआई को भी दी जाएगी।